प्रियंका गाँधी के बारे में सरोज पाण्डेय के बयान पर शैलेश नितिन का पलटवार…. कहा-यह घरेलू महिलाओँ का अपमान

रायपुर। प्रियंका गांधी के बारे में सरोज पांडे के बयान पर पलटवार करते हुये प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री और संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि प्रियंका गांधी को घरेलू महिला कहने के पीछे सरोज पांडे की मंशा भले ही प्रियंका गांधी  का अपमान करने और नीचा दिखाने की रही होगी लेकिन दरअसल उन्होंने देश की करोड़ों घरेलू महिलाओं का अपमान किया है।शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि सरोज पांडे भाजपा की बड़ी नेता हैं और भलीभांति जानती समझती हैं कि प्रियंका गांधी का सीधे मैदान में उतरने का मोदी सरकार की भविष्य के लिए क्या मतलब है। भाजपा के लोग ठीक से जानते हैं कि राजीव गांधी जी की हत्या के बाद सोनिया गांधी ने भी बच्चों के भविष्य के लिए घरेलू रहने का फ़ैसला किया था। भाजपा के लोगों को याद ही होगा कि जब सोनिया गाँधी  राजनीति में आईं थीं तो दस साल में भाजपा किस तरह राजनीति के हाशिए पर चली गई थी।  अब प्रियंका जी के आने के बाद देश का इतिहास अपने आपको दोहराएगा और भाजपा का फिर से हाशिये में जाना भी तय है।  प्रियंका गांधी एक घरेलू महिला हैं और एक घरेलू महिला को अगर कांग्रेस ने पूर्वी उत्तर प्रदेश की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी सौंपी है तो यह हम सबके साथ साथ पूरे देश की घरेलू महिलाओं के लिये भी बड़े गौरव की बात है । जिन सरोज पांडे ने शुरू से ही तामझाम दिखावे और आडंबर की राजनीति की है वह राजनीति में और देश में घरेलू महिलाओं के महत्व को समझ ही नहीं सकती हैं। सीजीवालडॉटकॉम के whatsapp ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक करे
कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और कांग्रेस की नवनियुक्त महामंत्री पूर्वी उत्तर प्रदेश के प्रभारी प्रियंका गांधी के बारे में भाजपा नेता सरोज पांडे के बयान का कड़ा प्रतिवाद करते हुए प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री और संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि राहुल गांधी होने का मतलब कांग्रेस की एक ऐसी सरकार बनना और बनाना है जो बोलने की आजादी पर ताला नहीं डालती है तभी तो सरोज पांडे नेहरू गांधी परिवार के बारे में देश के नेताओं के बारे में इतनी निम्न स्तरीय बात कह पा रही है । छत्तीसगढ़ में भाजपा की पूर्ववर्ती सरकार और भाजपा की केंद्र सरकार के रवैए के चलते तो विरोध में कोई बात कर पाना संभव नहीं है ईडी और सीबीआई के छापे डाले जाते हैं  । लेकिन सरोज पांडे अगर आज ऐसी बात करने की आजादी दिखा पा रहीं है यह राहुल गांधी और कांग्रेस पार्टी की सरकार की  ही देन है। राहुल गांधी होने का मतलब किसानों को उनके धान का 2500 रुपए  समर्थन मूल्य मिलना है।राहुल गांधी होने का मतलब किसानों की कर्ज माफी है। राहुल गांधी होने का मतलब तेंदूपत्ता तोड़ने वालों को ढाई हजार की जगह 4,000  रुपए मजदूरी मिलना है । राहुल गांधी होने का मतलब भाजपा की तरह जुमलेबाजी नहीं जो कर सके उसे कहना है और करके दिखाना है ।
प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री और संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि यह बेहद दुख की बात है जिस दिन राहुल गांधी रायपुर में न्यूनतम आय योजना गरीबों के लिए घोषित कर रहे थे ठीक उसी दिन उनके बारे में अपमानजनक टिप्पणी सरोज पांडे ने की है ।
 दरअसल सरोज पांडे को राहुल गांधी होने का मतलब समझ में नहीं आएगा जिनकी संस्कृति लड़ाई झगड़ा कराने की राजनीति है जो निम्न स्तरीय और धोखे झूठ और फरेब की राजनीति करते हैं उन्हें राहुल गांधी होने का मतलब समझ में नहीं आएगा । सोनिया गांधी तो त्याग की प्रतिमूर्ति हैं। जिस महिला ने प्रधानमंत्री पद ठुकराया जिस महिला की प्रेरणा से मनरेगा खाद्य सुरक्षा योजना वन अधिकार अधिनियम सूचना का अधिकार जैसी आम जनता को और खासकर गरीबों को अधिकार संपन्न बनाने की योजनाएं शुरू हुई उसके बारे में और उसकी संतानों के बारे में सरोज पांडे की टिप्पणी बेहद गलत और आपत्तिजनक है जिसका कांग्रेस कड़ा प्रतिवाद करती है।
प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री और संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि कांग्रेस की विरासत घोटालेबाजों की पार्टी भाजपा की तरह नहीं नेहरू गांधी की विरासत है जो गरीबों की चिंता करती है आम आदमी के हितों को सुरक्षित करती है
प्रियंका गांधी को घरेलू महिला कहे जाने के सरोज पांडे के बयान का मुंहतोड़ जवाब देते हुए कांग्रेस ने कहा है कि प्रियंका गांधी जी का घरेलू महिला होना गर्व की बात है। घरेलू महिला ही होती है जो अपने बच्चों और पूरे परिवार की जरूरतों को पूरा करने के लिए अपना जीवन लगा देती है । भारत की अधिकांश महिलाएं घरेलू महिला ही है । सरोज पांडे का बयान बेहद आपत्तिजनक और भाजपा के महिला विरोधी चरित्र का जीता जागता सबूत है।
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...