मेरा बिलासपुर

भौमिक से सताए लोगों की मांग,पत्नि रूमा पर भी दर्ज हो अपराध,मरने वाला कैसे करेगा आत्मसमर्पण

बिलासपुर।लोगों से दस्तावेज हासिल कर फर्जी तरीके से करोड़ों का चपत लगाने वाले आरोपी विश्वजीत भौमिक ने एक दिन पहले न्यायालय में आत्मसमर्पण किया। भौमिक से सताए लोग आज आईजी कार्यालय पहुंचकर राशि वसूलने की मांग की है। साथ ही उसकी पत्नी के खिलाफ भी अपराध दर्ज किए जाने को कहा है।विश्वजीत के आज समर्पण करने के दूसरे दिन पीड़ितों ने बिलासपुर रेंज पुलिस महानिरीक्षक से मिलकर विश्वजीत भौमिक की पत्नी के खिलाफ अपराध दर्ज किए जाने की मांग की है।आईजी दीपांशु काबरा को पीड़ितों ने बताया कि कुछ समय पहले विश्वजीत की पत्नी रूमा भौमिक ने उड़ीसा के संबलपुर में एफआईआर दर्ज कराया ।रूमा भौमिक ने उड़ीसा पुलिस को बताया कि कि विश्वजीत भौमिक ने  आत्महत्या कर लिया है। मामले में मीडिया के सामने रूमा भौमिक ने जानकारी दी कि विश्वजीत भौमिक  मर चुका है.इसलिए विश्वजीत के खिलाफ दर्ज किए गए प्रकरण खत्म किया जाए।CGWALL NEWS के व्हाट्सएप न्यूज़ ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक कीजिये

दीपांशु काबरा को पीड़ितों ने  जानकारी दी एक दिन पहले ही पीड़ितों को चुला लगाने का आरोपी विश्वजीत भौमिक ने न्यायालय के सामने आत्मसमर्पण किया है। इससे जाहिर होता है पूरे प्रकरण में रुमा भौमिक की भी अहम भूमिका है। रूमा और विश्वजीत ने जानबूझकर कानून और पुलिस के आंख में धूल झोंका है। ओडिसा में झूठी एफ आई आर दर्ज कराया गया है ।मीडिया के सामने बताया गया कि विश्वजीत भौमिक ने आत्महत्या कर लिया है ।

 पीड़ितों ने कहा कि रूमा भौमिक  के खिलाफ भी अपराधिक प्रकरण दर्ज कर गिरफ्तार किया जाए।  दोनों ने मिलकर फर्जी दस्तावेज के सहारे लोन लिया। इसके चलते पीड़ितों को बहुत परेशानियों का सामना करना पड़ा है। बेवजह बैंक को क़िस्त पटा रहे है। ऐसी सूरत में भौमिक परिवार से सारी संपत्ति को बेचकर वसूली जाए । चल अचल संपत्ति बेचकर बैंकों को भुगतान किया जाए। साथ ही बैंक को निर्देश दिया जाय कि क़िस्त की वसूली न करे।

एआरओ नियुक्ति का पकड़ा जोर...कांग्रेस नेताओं ने दिया मांग पत्र...कहा...गंभीरता को समझे चुनाव आयोग

  पीड़ितों ने पत्रकारों को बताया कि आईजी ने कहा कि अब विश्वजीत भौमिक गिरफ्तार हो चुका है । मामले में सभी लोग कोर्ट का दरवाजा खटखटाये।पीड़ितों ने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि इस पूरे प्रकरण में विश्वजीत भौमिक को पुलिस पकड़ने में नाकामयाब साबित हुई है ।कोरोना संक्रमण से बचने भौमिक ने न्यायालय में आत्मसमर्पण किया है। मामले में सफलता को लेकर पुलिस अब अपना पीठ थपथपा रही है।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS