युवा आयाम की नेक कोशिश..समर्पित सदस्यों ने बताया..सेवा,सबसे बड़ा धर्म

बिलासपुर—-ब्राह्मण युवा आयाम संगठन के सदस्यों और पदाधिकारियों ने जरुरत मंद लोगो के बीच गर्म कपड़ों समेत दैनिक जीवन में उपयोग आने वाले कपड़ो का किया वितरण किया। ज्योतिन्द्र उपाध्याय ने बताया कि ब्राम्हण युवा आयाम का यह कार्यक्रम लगातार चलता है। जरूरत मंदों के बीच पहुंचकर सेवा का कोई मौका नहीं छोड़ता है।
 
             ब्राह्मण युवा आयाम के प्रदेश संयोजक और अध्यक्ष ज्योतिन्द्र उपाध्याय ने बताया की हमारे धर्म ग्रन्थों में लिखा है कि दरिद्रनारायण की सेवा सबसे बड़ा पुरूषार्थ है। इस बात को ध्यान में रखते हुए ब्राह्मण युवा आयाम संस्था का गठन किया गया है। संस्था के माध्यम से समय समय पर गरीबों के बीच पहुंचकर उनकी जरूरतों को पूरा करने का प्रयास किया जाता है।
 
    ज्योतिन्द्र ने जानकारी दी कि संस्था के माध्यम से समय समय पर कपड़ा वितरण अभियान चलाया जाता रहा है। हमने इस प्रक्रिया को सेवा ही धर्म..अभियान का नाम दिया है। इसके तहत खुले आसमान के नीचे गुजारा करने वालों के बीच पहुंचकर संस्था के पदाधिकारी और सदस्य  कपड़ो का वितरण करते हैं। लोगों से जानकारी लेकर गरीबों के बीच पहुंचने का हमेशा भरसक प्रयास करते हैं।
 
                 हमने बीती रात बिलासपुर और आसपास के क्षेत्रों खासकर रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड , राजकिशोर नगर, चांटापारा, सरकंडा में नए पुराने कपडों का वितरण किया है। गरीब बच्चों, महिलाओं और पुरुषों के बीच गर्म कपड़ों को खासकर बांटा गया है। इसके अलावा संस्था ने नेकी की दिवार में भी कई जोड़ी कपड़े गरीबों और जरूरत मंदों के नाम पर दिया है।
 
              कपडा वितरण कार्यक्रम में मुख्य रूप से ब्राह्मण युवा आयाम के रविन्द्र उपाध्याय, ज्योतिन्द्र उपाध्याय, रतिन्द्र उपाध्याय, शुभम पाठक, राहुल,  शुभम बाबा पाण्डेय, अपूर्वा शुक्ला समेत अन्य सदस्य और पदाधिकारी खासकर शामिल हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *