वनकर्मचारी को जिन्दा जलाने की धमकी…रेतमाफिया भाजपा युवा नेता का आतंक…FIR दर्ज करने से बच रही पुलिस

बिलासपुर– गौरेला स्थित पीपरखुंटी वन आरक्षक ने भाजपा युवा मोर्चा नेता पर गाली गलौच और दफनाने की धमकी देने का आरोप लगाया है। वन आरक्षक ने बताया कि पुलिस भी रेत माफिया संतोष सोनकर के खिलाफ एफआईआर दर्ज नहीं कर रही है। जबकि संतोष सोनकर ने जिन्दा गाड़ने की धमकी के साथ जातिगत गालियां दी है। रात्रि को स्कार्पियों में बैठकर तलाश जान से मारने के लिए तलाश कर रहा था।
                          गौरेला के पीपरखुंटी में वन आरक्षक अजय सिंह ने रेत माफिया संतोष सोनकर पर गाली गलौच और जिन्दा गाड़ने की धमकी देने का आरोप लगाया है। जिससे वन रक्षकों आक्रोश और डर दोनों है। अजय सिंह ने बताया कि रेत माफिया के खिलाफ शिकायत करने थाने में पांच घंटे से मिन्नत कर रहें है। बावजूद इसके भाजपा नेता के खिलाफ एफआईआर दर्ज नहीं किया जा रहा है।
                वनरक्षक अजय सिंह ने बताया कि 14 सितंबर 2018 को दिन में करीब साढ़े तीन बजे पीपरखुटी परिषद क्रमांक 1257 में सोन नदी पुल के नीचे से अवैध तरीके से रेत निकाला जा रहा था। मौके पर रेत से भरा ट्रैक्टर क्रमांक सीजी 08 12477  पाया गया। ट्रैक्टर  चालक नर्मदा प्रसाद यादव ने  बताया कि गाड़ी भाजपा युवा नेता संतोष सोनकर की है। उसके निर्देश पर रेत उत्खनन और परिवहन का काम किया जा रहा है।
                       वन रक्षक अजय सिंह के अनुसार वाहन चालक नर्मदा प्रसाद यादव ने मोबाइल से वाहन मालिक संतोष सोनकर से बातचीत कराया। सोनकर ने ट्रैक्टर छोड़ने को कहा। ऐसा नहीं करने पर गाली गलौज जिन्दा गाड़ने की धमकी देने लगा। सोनकर ने कहा कि तू वहीं पर खड़ा रह..मैं आकर बताता हूं। उसने जिंदा जलाने की भी धमकी दी। साथ ही जाति सूचक गालियां भी दी.
         वन रक्षक ने बताया कि मामले की जानकारी तत्काल परिक्षेत्र सहायक एबी चतुर्वेदी को दी। परिक्षेत्र सहायक मौके पर पहुंच गए। इस बीच संतोष सोनकर ने मोबाइल पर वाहन चालक को आदेश  कहा कि गाड़ी चढा दे। लेकिन कार्रवाई से बचने गाली देता हुआ ट्रैक्टर लेकर फरार हो गया।
                     अजय राय ने पुलिस को लिखित में शिकायत कर बताया कि उसके जान को खतरा है। रेत माफिया संतोष ने जिन्दा दफन करनी की धमकी दी है। रेत माफिया भाजपा नेता से वह काफी डरा हुआ है। भविष्य में जान माल का खतरा है।
           अजय के अनुसार पुलिस थाना गौरेला में पांंच घंटे से एफआईआर दर्ज करने की गुहार लगा रहा हूं। लेकिन पुलिस वाले रटा रटाया जवाब दे रहे हैं कि टीआई साहब दौरे पर हैं इसलिए एफआईआर दर्ज नहीं किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *