राशन वितरण कर स्कूल से घर लौटते समय शिक्षक की मृत्यु,फेडरेशन ने की 50 लाख बीमा राशि प्रदान करने की मांग

राजनांदगांव (मोहला)-शासन द्वारा नोबेल कोरेना वायरस जैसे विश्वव्यापी महामारी के चलते सुरक्षा के दृष्टिकोण से छत्तीसगढ़ के समस्त शालाओं को फिलहाल बंद कर दिया गया है तथा एकमुश्त 40 दिन का राशन शालाओं में अध्ययनरत बच्चों के पालकों को दिया जाना है,इस कार्य को संपादन की जिम्मेदारी छत्तीसगढ़ के समस्त शालाओं के प्रधान पाठक/ प्रभारी शिक्षकों की ड्यूटी चावल दाल वितरण करने में लगाई गई है.जहां शिक्षक शालाओं में अध्ययनरत बच्चों के घर घर जाकर वितरण कार्य में लगे हैं।सीजीवालडॉटकॉम के व्हाट्सएप (NEWS) ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक कीजिये

प्राप्त जानकारी के अनुसार राजनांदगांव जिला के मोहला ब्लॉक के शासकीय पूर्व माध्यमिक शाला मिस्प्री के शिक्षक दाऊ लाल कोल्हे अपने कर्तव्यों का निर्वहन करते हुए शाला से घर-घर में जाकर सूखा चावल,दाल वितरण कार्य किया तथा घर जाते समय सांगली (भोजटोला) मोड़ में अनियंत्रित होकर गिर जाने की वजह से गंभीर चोट आने के कारण शिक्षक की मृत्यु हो गई।

सरपंच द्वारा घटना की जानकारी फेडरेशन के ट्राइबल विभाग प्रभारी राधेश्याम नेताम को दी गई और नेताम सर के द्वारा तत्काल 108 को कॉल करके एम्बुलेंस के द्वारा शिक्षक को तत्काल अस्पताल पहुंचाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।फेडरेशन द्वारा प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ,शिक्षा मंत्री डॉ, प्रेमसाय सिंह टेकाम से मृत शिक्षक को 50 लाख की बीमा राशि प्रदान करने की मांग किया है।

फेडरेशन के प्रदेश अध्यक्ष मनीष मिश्रा,राजनांदगांव जिलाध्यक्ष शंकर साहू, प्रांतीय प्रवक्ता विकास मानिकपुरी, प्रांतीय महामंत्री राजकुमार यादव, प्रांतीय महासचिव प्रेमलता शर्मा, जिला उपाध्यक्ष कीर्तन मंडावी,जिला महासचिव शिव शंकर कोर्राम, जिला महामंत्री राजकुमार सरजारे,जिला संयुक्त सचिव मीतेंद्र बघेल, ट्राइबल विभाग प्रभारी राधेश्याम नेताम,राजेश निषाद, ब्लॉक अध्यक्ष सुनील शर्मा, ब्लॉक सचिव मक्खन साहू, अंबागढ़ चौकी ब्लॉक अध्यक्ष देव कुमार यादव,सचिव राजेश्वर साहू,खेमचंद ठाकुर,पवन चंद्रवंशी,आलोक मसीह,अमित बांबेश्वर, पुनीत बड़ेंद्र,दिनेश उसेंडी,वीरेन्द्र साहू,ब्लॉक कोषाध्यक्ष सुशील शांडिल्य, उमाशंकर दिल्लीवार,महिला प्रकोष्ठ ब्लॉक अध्यक्ष श्रीमती किरण बाला लाटीया,जिला संयोजक सरिता खान, जिला सचिव अंजूषा वैष्णव, अंजू साहू, लक्ष्मी गेडाम,असरानी देशमुख, फूल बाई आर्य,शशि साहू, विद्या श्रीरंगे,अनीता वर्मा, प्रणिता साहू,गायत्री मंडावी,भुनेश्वरी सहारे सहित जिले के हजारों फेडरेशन के साथियों ने शिक्षक के असामयिक मृत्यु पर शोक संवेदना व्यक्त किये तथा उच्चाधिकारियों से चर्चा कर यथासम्भव मदद की बात की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *