कालेज प्रवेश की नई तारीख का एलान.. कांग्रेस नेता विजय ने किया स्वागत.. अब 31 सितम्बर तक होगा एडमिशन

बिलासपुर– राज्य सरकार के निर्दे पर अब कॉलेजों में प्रवेश की अंतिम तारीख को 31 सितम्बर तक बढ़ा दिया गया है। अब कालेज में प्रवेश के इच्छुक छात्र छात्राएं  23 सितंबर तक प्राचार्य और 31 सितंबर तक कुलपति की अनुमति से प्रवेश ले सकेंगे। उच्च शिक्षा विभाग ने कुल सचिव और सभी कॉलेजों के प्राचार्यो को पत्र भी जारी कर दिया है।वहीं कांग्रेस नेता विजय केशरवानी ने सरकार के नए फरमान का स्वागत किया है।
 
          कालेज में अब प्रवेश के इच्छुक छात्र छात्राओं को राहत देते हुए प्रवेश तिथि को 31 सितम्बर तक बढ़ा दिया है। जानकारी हो कि इसके पहले प्रवेश की तारीख 14 सितम्बर था। कोरोना काल और छात्र छात्राओं की परेशानियों को देखते हुए जिला कांग्रेस अध्यक्ष विजय केशरवानी ने अटल विश्वविद्यालय से संबद्ध कालेजों में प्रवेश की अंतिम तिथि को बढ़ाए जाने की मांग की थी।
 
               विजय केशरवानी ने विश्वविद्यालय ने कुलपति से मुलाकात कर बताया था कि कोरोना काल में व्यावहारिक रूप से प्रवेश की अंतिम तारीख को 14 सितंबर से आगे बढाया जाना उचित होगा। केशरवानी ने कुलपति से कहा कि कोरोना संक्रमण और उत्पन्न परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए प्रवेश की तारीख का बढ़ाया जाना जरूरी है। छात्रों को इस दौरान लाकडाउन का भी सामना करना पड़ा है। अभी अनेक विषयों और कक्षाओं की परीक्षाएं बाकी हैं। अनेक विषयों और कक्षाओं के छात्र छात्राओं को अभी भी रिजल्ट का इंतजार है। जबकि प्रवेश की अंतिम तारीख को मात्र एक दिन बाकी है।
 
                बावजूद इसके विश्वविद्यालय से संबद्ध कालेजों में मात्र 20 से 25 प्रतिशत सीटें ही भरी जा सकी हैं। इसका सीधा मतलब है कि विभिन्न कक्षाओं में अभी तक अधिकांश विद्यार्थी  प्रवेश नहीं ले पाए हैं।इसलिए छात्र हित में प्रवेश की तारीख को बढ़ाया जाना बहुत जरूरी है। मामले को गंभाीरता से लेते हुए कुलपति ने सारी बातों को उच्च शिक्षा विभाग के सामने रखा। मामले में आज गंभीरता से विचार करते हुए उच्च शिक्षा विभाग ने फरमान जारी कर प्रवेश की नयी तारीख का एलान किया है।
 
             वही कालेज में प्रवेश तारीख के बढ़ाए जाने पर जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष विजय केशरवानी ने खुशी जाहिर की है। उन्होने कहा कि निश्चित रूप से इसका फायदा छात्रों को मिलेगा। परीक्षाएं भी खत्म हो जाएंगे। साथ ही छात्र छात्राओं के साथ अभिभावकों को भी राहत मिलेगी।

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...