दगौरी तक दौड़ेंगी अब सिटी बसे

aug_tl♦ताला के लिए भी जल्दी शुरू होगी सिटी बस
बिलासपुर। कलेक्टर अन्बलगन पी. ने मंगलवार को टीएल की समीक्षा बैठक ली और विभिन्न योजनाआंे के तहत् स्वीकृत कार्यों को तत्काल शुरू करने के निर्देश दिये ताकि उन्हे समयसीमा में पूर्ण किया जा सके।कलेक्टर ने भारतीय रिजर्व बैंक, स्वास्थ्य एवं शिक्षा विभाग के सहयोग से जिला अस्पताल एवं बरतोरी स्कूल में किओस्क मशीन लगाने के निर्देश दिए। उक्त मशीन में बैंक खाता खोलने से लेकर विभिन्न प्रकार की जानकारी मिल सकेगी।कलेक्टर ने बिल्हा तक चलने वाली सिटी बस को आगे दगौरी तक चलाने के लिए क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी को निर्देश दिए। उन्होंने पर्यटन स्थल ताला के लिए भी सिटी बस संचालित करने को कहा।

                                       बैठक में कलेक्टर अन्बलगन पी. ने शिक्षा विभाग को राज्य स्तरीय क्रीड़ा प्रतियोगिता का आयोजन की तैयारी करने के निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि आगामी 31 अगस्त से 3 सितंबर तक खेल प्रतियोगिता का आयोजन होगा। इस क्रीड़ा प्रतियोगिता के लिए विभिन्न विभागों का सहयोग लिया जायेगा। संबंधित अधिकारी सौंपे गये दायित्वों का बखूबी निर्वहन करेंगे। स्वास्थ्य, परिवहन, जनसंपर्क, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकीय, खाद्य, नगर निगम, आदिवासी एवं पुलिस विभाग को उनसे संबंधित कार्यों का दायित्व सौंपा गया है। जरौंधा स्कूल के निरीक्षण के दौरान फ्लोरिंग उखड़ा हुआ पाये जाने पर कलेक्टर ने गहरी नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने कहा कि जिले में ऐसे स्कूलों में अविलंब मरम्मत कार्य कराएं। उन्होंने विभिन्न निर्माण कार्यों में अनियमितता पाये जाने पर कड़ी कार्यवाही करने की हिदायत दी।

                                        साथ ही जिले के सभी एसडीएम अपने-अपने क्षेत्र के स्कूलों के आसपास के बेजाकब्जा को हटाएं। कलेक्टर ने स्कूल एवं अन्य शासकीय भवन परिसर में जगह की उपलब्धता के अनुसार अधिक से अधिक पौधरोपण करने के लिए कहा।  कलेक्टर ने ग्राम देवकिरारी, मोपका एवं बहतराई में शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने लोक स्वास्थ्य यांत्रिकीय विभाग के कार्यपालन अभियंता को निर्देश दिये। साथ ही आवश्यक मूलभूत सुविधा उपलब्ध कराने के लिए कहा। कलेक्टर ने भारत सरकार द्वारा एसडीआई योजना के तहत् संचालित मारूति सुजुकी उद्योग में तकनीकी कार्य प्रशिक्षण हेतु 10-12वीं के बाद पढ़ाई छोड़ चुके बेरोजगार युवकों को तैयार करने के निर्देश दिये। उक्त प्रशिक्षण गुड़गांव में लगभग डेढ़़ वर्ष का होगा।

                                         कलेक्टर ने मुख्यमंत्री जनदर्शन से प्राप्त आवेदनों को समयसीमा में निराकरण करने के लिए कहा। कलेक्टर ने 20 सूत्रीय कार्यक्रम क्रियान्वयन, सार्वजनिक वितरण प्रणाली, क्षेत्र में पेयजल व्यवस्था, स्वच्छ भारत मिशन के तहत् शौचालय निर्माण एवं अन्य विभिन्न कार्यों की विस्तार से समीक्षा करते हुए आवश्यक निर्देश दिए।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...