वादा खिलाफी का सवाल ही नहीं-पुन्नूलाल मोहले

IMG20161002110752बिलासपुर— खाद्यमंत्री पुन्नूलाल मोहिले ने कहा है कि किसानों के साथ कोई वायदा खिलाफी नहीं की गयी है। बोनस अभी मिलने का सवाल ही नहीं उठता है। समर्थन मूल्य के बारे में अभी कोई निर्णय नहीं लिया गया है। धान खरीदे में किसी प्रकार की कोताही नहीं होगी। जैसे पहले प्रति एकड़ पन्द्रह क्विंटल धान खरीदा गया था। इस बार भी उसी के अनुसार धान की खरीदी होगी। धान खरीदे को लेकर तारीख बदलने का सवाल ही नहीं उठता है।

                                       पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि सरकार किसानों के साथ वादा खिलाफी नहीं करती है। समर्थन मूल्य और बोनस के सवाल पर मोहिले ने कहा कि किसानों को अभी बोनस देने का सवाल ही नहीं उठता है। जरूरत पड़ी तो समर्थन मू्ल्य पर सरकार विचार कर सकती है।

      कांग्रेस नेताओं का आरोप है कि आपने किसानों को धान का एक-एक दाना खरीदने का आश्वासन दिया था। लेकिन खरीदते समय प्रति एकड़ पन्द्रह क्विंटल का बंधन लगा दिया। खाद्यमंत्री ने कहा कि पहले भी पन्द्रह क्विंटल धान खरीदा था। इस बार भी वही किया जा रहा है। किसान अपनी फसल लेकर मंडी तक तो आएं। जरूरत पड़ी तो आदेश पर पुनर्विचार किया जाएगा। एक नवम्बर या पन्द्रह नवम्बर से धान खरीदी करने से कुछ फर्क नहीं प़ड़ने वाला है।

                 पुन्नूलाल ने कहा कि दीपावली के समय कौन सी फसल तैयार हो जाती है। जो तैयार भी होती है वह मंडी तक नहीं पहुंचती। इसलिए पन्द्रह अक्टूबर से धान खरीदी का सवाल ही नहीं उठता है। जोगी का काम सिर्फ बोलना है। सोचना समझना तो उन्हें है नहीं। कांग्रेस और जोगी राजनीति कर किसानों को बेवकूफ बना रहे हैं।

           राशन कार्ड में अभी भी धांधली का खेल हो रहा है के प्रश्न पर मोहिले ने कहा कि ऐसा कुछ नहीं है। हो सकता है कि किसी कुछ क्षेत्रों में अपात्र लोगों का कार्ड बन गया हो शिकायत के बाद कार्रवाई की जाएगी। राशन कार्ड पंचायत सचिव,सरपंच,खाद्यअधिकारी,कलेक्टर और अन्य अधिकारियों के देखरेख बनता है। इसके बाद भी कोई गलत तरीके से गरीबों का राशन खा रहा है तो लोग हमें बताएं। हम कलेक्टर से तत्काल बात करेंगे। ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई करेंगे।

                                         मस्तूरी क्षेत्र में मृतकों के नाम राशन उठाया जा रहा है के जवाब में मोहिले ने कहा कि कलेक्टर को ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई का निर्देश देंगे।

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...