जिले में प्रथम आगमन पर मंत्री द्वय का हुआ भव्य स्वागत,घोषणा पत्र के वादों को पूरे मनोयोग से पूरी करेगी सरकार -टी.एस.सिंहदेव

रामानुजगंज (पृथ्वीलाल केशरी )।छत्तीसगढ़ शासन के पंचायत एवं ग्रामीण विकास,लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री टी.एस.सिंहदेव तथा स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम के बलरामपुर-रामानुजगंज जिला अंतर्गत वाड्रफनगर में आगमन पर स्थानीय जनप्रतिनिधियों एवं ग्रामीणों द्वारा भव्य स्वागत किया गया। मंत्री द्वय का अभिनन्द समारोह हाई स्कूल वाड्रफनगर के प्रांगण में आयोजित किया गया।

इस अवसर पर बड़ी संख्या में उपस्थित स्थानीय जनप्रतिनिधियो एवं हजारों की संख्या में उपस्थित ग्रामीणों ने मंत्री द्वय का स्वागत फूल-मालाओं से तथा पुष्पगुच्छ भेंटकर किया। टी.एस. सिंहदेव ने अभिनन्दन समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि पार्टी द्वारा पूरे मनोयोग एवं ईमानदारी के साथ जन घोषणा पत्र तैयार किया गया है, जिसे पूरी प्रतिबद्धता के साथ पूरा किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि नव-निर्वाचित राज्य सरकार द्वारा शपथ ग्रहण करने के तत्काल पश्चात धान का समर्थन मूल्य 2 हजार 500 रूपए की घोषणा कर दी गई तथा किसानों का कर्ज भी माफ कर दिया गया। इसी प्रकार पुलिस एवं अन्य कर्मचारियों के लिए किये गये वादों को भी शीघ्र पूरा किया जाएगा। किसानों को कृषि सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी तथा युवाओं को अधिक से अधिक संख्या में रोजगार उपलब्ध कराए जाएंगे।

उन्होंने कहा कि बिचौलियों के द्वारा अन्य राज्यों से धान बेचने आने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जयेगी। अवैध धान की बिक्री पर भी किसानों से सूचना देने का आग्रह किया गया है। श्री सिंहदेव ने कहा कि किसी भी अनियमित कर्मचारी को अब नौकरी से नही निकाला जाएगा तथा उन्हें नियमित करने की कार्यवाही की जाएगी। मितानिनों को 5 हजार रूपए की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी।

स्कूल शिक्षा एवं आदिम जाति विकास मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम ने बड़ी संख्या में उपस्थित लोगों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि शासन से जो जिम्मेदारी उन्हें दी गई है,उसे वे पूरी ईमानदारी एवं निष्ठा के साथ पूरा करेंगे। उन्होंने नये हाई स्कूल भवन निर्माण एवं सामुदायिक भवन निर्माण की भी घोषणा की। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार आउट सोर्सिंग प्रथा को पूरी तरह समाप्त कर नियमित पदों पर ही नियुक्ति करेगी।

डॉ. टेकाम ने कहा कि शिक्षाकर्मियों को अब संविलियन के लिए 8 वर्ष का इंतजार नही करना पड़ेगा, बल्कि 2 वर्ष की परिवीक्षा अवधि पूरी करने के बाद संविलियन कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि आदिम जाति एवं अल्पसंख्यक समुदायों के लिए संचालित योजनाओं का क्रियान्वयन अंतिम छोर के व्यक्ति तक पहुंचाने पर जोर दिया जाएगा।

उन्होंने आश्वस्त किया कि हमारी सरकार किसानों के सर्वाधिक हितों का ध्यान रखेगी। उन्होंने बताया कि बलरामपुर-रामनुजगंज जिले में करीब 72 लाख 18 हजार रुपये की कर्ज माफी होगी। किसानों को विगत दो वर्षों के बोनस का भत्ता भी दिया जाएगा। इस अवसर पर बड़ी संख्या में स्थानीय जनप्रतिनिधि एवं ग्रामीणजन उपस्थित थे

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...