शिक्षाकर्मियों के संविलियन की प्रक्रिया चल रही कछुआ चाल से… 12 दिन बाद भी भटक रहे शिक्षक..विभाग का उदासीन रवैया

बिलासपुर।12 दिन गुजर जाने के बाद भी जिनका आठ वर्ष पूरा हो गया है उनके संविलियन प्रक्रिया में कोई तेजी नही नज़र आ रही है। शिक्षक परेशान है और सोशल मीडिया में और शिक्षक संघो से सवाल कर रहे है कि इस समस्या का समाधान क्या होगा और कब होगा ..। इस प्रक्रिया में पिछले वर्ष जैसी गति क्यो नही दिखाई दे रही है।सीजीवालडॉटकॉम के व्हाट्सएप्प ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

शिक्षाकर्मियों का शिक्षा विभाग में संविलियन 1 जुलाई को होना था लेकिन 12 दिन गुजर जाने के बाद भी इस कार्य में प्रगति दिखाई नहीं दे रही है।पिछले वर्ष इसी विभाग ने रिकॉर्ड 2 दिन में एक लाख से अधिक शिक्षाकर्मियों का संविलियन कर वाहवाही बटोरी थी।

पर इस वर्ष शिक्षा विभाग में कुछ खास दिलचस्पी दिखाई नहीं दे रही है। वैसे भी यह संविलियन प्रक्रिया पूरे 6 महीने विलंब से हो रहा है।जनवरी में होने वाले संविलियन प्रक्रिया चुनाव तैयारियों के चलते नहीं किया गया था.

शिक्षक नेता आलोक पाण्डेय ने इस विषय पर चर्चा में बताया कि संविलियन हर वर्ष जुलाई एवं जनवरी माह में करने की व्यवस्था बनाई गई है। किन्तु इस वर्ष चुनावी वर्ष होने के कारण जनवरी में होने वाले संविलियन प्रक्रिया को जुलाई में करने का आदेश निकाला गया था जिसे 1 जुलाई को किसी भी स्थिति में पूर्ण कर लिया जाना चाहिए था।

8 वर्ष के प्रतीक्षा के पश्चात संविलियन की सौगात हमारे साथियों को मिल रही है इसमें और विलंब सही नहीं है।हालांकि यह 6-6 महीने में संविलियन की प्रक्रिया को खत्म करते हुए सरकार को इसी जुलाई में बाकि बचे हुए समस्त शिक्षाकर्मी साथियों के संविलियन का ऐतिहासिक निर्णय ले लेना चाहिए था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *