144 Archive

शाम होते धारा 144 का असर, बिलासपुर में पसरा सन्नाटा..व्यापार विहार बन्द..बिना पुलिस के सदर,गोलबाजार में लटका ताला..पुलिस गश्त तेज

बिलासपुर—शाम सात बजते ही बिलासपुर में सन्नाटा पसर गया। वह भी बिना किसी हुज्जत बाजी या पुलिस के मदद से। व्यापारियों ने खुद ब खुद सात बजते ही शटर गिरा दिया। ताला जड़कर घर रवाना हो गए। हां इस दौरान पेट्रोल पम्प, मेडिकल दुकानों और हाटल जरूर खुले नजर आए। पुलिस के अनुसार नियमों और

कापन में बोहनी खराब..150 महिलाओं ने किया शराब दुकान का घेराव..धारा 144 का उल्लंघन..उल्टे पांव लौटी पुलिस

जांजगीर चांपा…जिले के कापन में महिलाओं ने शराब दुकान नहीं खुलने दिया। खुलने से पहले ही महिलाओं ने हाथ में डण्डा लेकर शराब दुकान घेर लिया। यद्यपि आबकारी अमला ने सभी को समझाने का प्रयास किया। लेकिन महिलाओ के सामने किसी की एक नहीं चली। डरी सहमी  पुलिस भी धारा 144 का उल्लंघन होते देखती

मस्तूरी और सिरगिट्टी में 2 के खिलाफ अपराध दर्ज..144 का किया उल्लंघन

बिलासपुर—- सिरगिट्टी पुलिस ने लाकडाउन के दौरान समझाइश के बाद भी किराना दुकान खोले जाने पर व्यापारी के खिलाफ अपराध दर्ज किया है। इसी तरह मस्तूरी पुलिस ने जोंधरा चौक में धारा 144 के उल्लंघन किए जाने पर कार्रवाई की है।                       सिरगिट्टी पुलिस ने ईडब्लूएस कालोनी में प्रतिबंध के दौरान किराना दुकान खोलने वाले

ट्रेडर्स मालिक समेत चार पर अपराध दर्ज..किया लाकडाउन का उल्लंघन..

  बिलासपुर—-सरकण्डा पुलिस ने पेट्रोलिंग के दौरान एक ट्रेडर्स संचाल के खिलाफ धारा 144 उल्लंघन के आरोप में अपराध दर्ज किया है। चार लोगों को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया है।                     सरकण्डा पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार सीपत चौक के पास ट्रेडर्स संचालक के खिलाफ धारा 144 के उल्लंघन का अपराध

लॉक डाउन के दौरान आवश्यक सेवाओं का समय निर्धारित ,सूरजपुर प्रशासन का आदेश, उल्लंघन करने पर होगी कड़ी कार्रवाई

सूरजपुर।जिला प्रशासन सूरजपुर द्वारा संस्थानों एवं दुकानों के खुलने और बंद होने के समय का निर्धारण किया गया है।उक्त आदेश 31 मार्च रात्रि 9:00 बजे तक प्रभाव शील रहेगा। जारी आदेश के अनुसार सभी मंडियों,दुकान व ठेला (सब्जी फल अनाज) के खुलने का समय सुबह 9:00 बजे सेवर बंद होने का समय दोपहर 3:00 बजे

सेन्ट्रल जेल से आजादी के बाद शिक्षाकर्मी की आपबीती..2 माह की बच्ची को सजा….अधिकार मांगने का अर्थ..जेल

बिलासपुर–हम लोग कोर्ट जाएंगे…हद हो गयी…हमें रायपुर रेलवे स्टेशन से उठा लिया गया…151 की धारा थोप दी गयी..जबकि हमने धारा 144 का उल्लंघन भी नहीं किया। धरना प्रदर्शन स्थल तक गये भी नहीं…। बावजूद इसके 24 घंटे तक केन्द्रीय जेल में रखा गया। ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि कभी जेल का दरवाजा मत दिखाना।