मेरा बिलासपुर

बाबा ने इंसान ही नहीं..जीव जन्तुओं से भी किया प्यार..युवा नेता मनहर ने कहा..धर्म जाति से ऊपर होकर करें मानव धर्म का प्रचार

बाबा ने समाज ही नहीं बल्कि सम्पूर्ण मानव जाति उत्थान के लिए जीवन समर्पित किया

बिलासपुर—बाबा गुरूघासीदास को विचारों का युगप्रवर्तक कहा जाता है। उनके दिए गए सूत्र आज भी उतना ही प्रासंगिक हैं..जितना कभी हुआ करते थे। बाबा के बताए सिद्धांतों पर चलकर हमें देश और समाज को  प्रगति के शीर्ष पर पहुंचाना है। देश में अमन शांति और विकास के लिए हमें सभी के साथ मिलजुलकर भाईचारा के साथ रहना होगा। बाबा गुरूघासी दास ने हमेशा मानव जाति को यही  संदेश दिया है। यह बातें युवा कांग्रेस नेता जयंत मनहर ने बाबा गुरूघासीदास की जयंति पर आयोजित कार्यक्रम के दौरान मस्तूरी विधानसभा के देवगांव में कही। जयतं मनहर ने बताया कि बाबा गुरूघासीदास ने मानव ही नहीं विश्व के सभी जीव जन्तुओं में ईश्वार का रूप देखा है। उन्होने कहा भी है कि मनखे-मनखे एक समान।

युवा कांग्रेस नेता जयंत मनहर के मुख्य आतिथ्य में मस्तूरी विधानसभा के देवगांव में बाबा गुरूघासी दास की जयंति पर विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान जयंत ने जैतखाम में झण्डा चढ़ाकर खुद को गौरवान्वित महसूस किया। मनहर ने कहा कि मेरे लिए सौभाग्य की बात है कि बाबा के चरणों में स्थान मिला। उन्होने कहा कि बाबा ने समाज ही नहीं बल्कि सम्पूर्ण मानव जाति उत्थान के लिए अपना जीवन समर्पित किया है। उनके दिए गए शांति और उन्नत के सूत्र जितना तब प्रासंगिक था..उतना आज भी है। उनके बताए मार्ग  पर ही चलकर हमें शांति सम्पन्नता और भाईचारा हासिल होगा।

   जयंत मनहर ने कहा कि बाबा के दरबार में आने का मौका मिला। इसके लिए अपने आपको मैं खुशनसीब समझ रहा हूं। इसके लिए  देवगांव के सरपंच भारत खांडेकर को प्रणाम करने के साथ धन्यवाद भी देता हूँ। कि उन्होने मुझे बाबा के दरबार में आने के काबिल समझा। मनहर ने दुहराया कि हमें जाति पांति से ऊपर उठकर देश और प्रत्येक देशवासियों से प्यार करना होगा। यही बाबा भी चाहते थे। उन्होने तो हमें पशु पक्षियों, और जीव जन्तुओं से प्यार करना सिखाया है। जब तक हमें किसी को प्यार नहीं देंगे..तब तक हमें भी प्यार नहीं मिलेगा।

GPM वासियों पर CM ने लुटाया प्यार ..सभी समाज को किया खुश..कहा.. ..करेंगे जलेश्वर विवाद का खात्मा..युग पुरूष माधव राव सप्रे को किया याद..

    युवा नेता ने कहा हमें बाबा के सिद्धांतों पर चलकर माता बहनों का भी सम्मान करना होगा। मैं गांव की पावन धरा को प्रणाम करता हूं। मैंने बाबा से आशीर्वाद मांगा है कि देवगांव के साथ ही मेरे प्यारे प्रदेश को सुख और सम्पन्नता प्रदान करे।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS