Bilaspur हवाई सेवा संघर्ष समिति का धरना,जन आंदोलन को तीव्र करने पर जोर

बिलासपुर-अखण्ड धरना के 162वें दिन आज हवाई सेवा समिति के सदस्यों द्वारा धरने पर बेैठे। आज धरने पर बैठे हुये समिति के सदस्यों ने एक स्वर में हुंकार भरी और कहा कि आज का युवा जागरूक है। उनके अधिकार क्या है और उन्हे कैसे हासिल करना है वे अच्छी तरह जानते है। आज हमारे बिलासपुर से निर्वाचित सदस्य जो है कही न कही हवाई सेवा को लेकर संघर्शो के तत्परता में कमी कर रहे है जिसके कारण हवाई सेवा में देरी हो रही है और बिलासपुर की जनता में भी असंतोश व्याप्त हो रहा है अब समय आ गया है कि हम सभी सदस्यों को मिलकर हवाई सुविधा जन आंदोलन में और अधिक तीव्रता लाये।आज की सभा को संबोधित करते हुये महेश दूबे ने कहा कि आज का युवा वर्ग नई तकनीकियों, नई आकांक्षाओे व नये विचारो से लैंस है, जरूरत है तो केवल इस बात की इसे अवसर दिया जाये, और वह शहर के बाहर महानगरों में जाकर भी अपने इस हुनर व काबलियत से बिलासपुर की उत्कृश्ठता से सभी को रूबरू करा सके और इन सबसे अगर कोई वंचित रखता है तो वह है केवल हवाई सुविधा।

महेश दूबे ने आगे कहा कि हवाई सुविधा मिलने से बिलासपुर के विकास के द्वार खुलेगे और रोजगार, व्यवसाय एवं पर्यटन के क्षेत्रों को बढावा मिलेगा। और उन्होंने बढ़े सादगी भरे लब्जो में कहा इस हकीकत से गुरेज नही किया जा सकता कि बिलासपुर राजधानी से किसी भी मामले में कमतर है लेकिन सुविधा के नाम पर केवल राजधानी का नाम ही आता है और जब बिलासपुर को मात्र आधारभूत सुविधाओं से नवाजने की बात की जाती है तो केवल आष्वासन दिया जाता है। ऐसा कब तक चलता रहेगा?

आज की सभा में श्याम मुहूर्त कौशिकने अपनी उर्जावान उपस्थिति दर्ज की। उन्होने अपने ज्ञान व अनुभवों से सलाह देते हुये कहा कि राज्य सरकार ने तो रू 27 करोड की राषि देकर इस हवाई सुविधा की ओर पहला कदम रखा है परन्तु जब तक सांसद केन्द्र स्तर पर प्रयास नहीं करेगे तब तक इस हवाई सुविधा की योजना को धरातल नही मिलेगा क्योंकि सीधी सी बात है कि सांसद राज्य और केन्द्र के मध्य अपनी बात रखने की एक महत्वपूर्ण कडी होती है। कौषिक जी अपनी बात रखते हुये कहा कि बिलासपुर में विभिन्न केसों के लिए बाहर से आने वाले वकीलों को बडी असुविधा होती है क्योकि उन्हे रायपुर से बिलासपुर आने में काफी समय बर्बाद करना पडता है ऐसे में बिलासपुर को हवाई सुविधा मिल जाने से आवागमन का समय बचेगा एवं कई मामलों की सुनवाई कम से कम समय में हो पायेगी।

सभा का संचालन बद्री यादव के द्वारा और आभार प्रदर्शन अशोक भण्डारी के द्वारा किया गया। आज के धरना आंदोलन में देंवेन्द्र सिंह बाटू, दिनेश रजक, नरेश यादव, शालिकराम पाण्डे, अखिल अली, अभिषेक चौबे, संतोष पीपलवा, नवीन वर्मा आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *