मेरा बिलासपुर

CG NEWS : सीयू कुलपति प्रो. चक्रवाल ने कहा – आगाज़ बेहतर तो अंज़ाम बेहतरीन होगा

CG NEWS : बिलासपुर। गुरू घासीदास विश्वविद्यालय (केन्द्रीय विश्वविद्यालय) के  कुलपति प्रोफेसर आलोक कुमार चक्रवाल की अध्यक्षता में मंगलवार से आंतरिक गुणवत्ता आश्वासन प्रकोष्ठ समिति की 15वीं बैठक का आयोजन हाइब्रिड मोड में किया गया। प्रशासनिक भवन के सभा कक्ष में आयोजित समिति की बैठक में कुलसचिव प्रो. मनीष श्रीवास्तव एवं आंतरिक गुणवत्ता आश्वासन प्रकोष्ठ के निदेशक प्रो. ए.एस. रणदिवे सहित समिति के अन्य सदस्य उपस्थित रहे।
बैठक की अध्यक्षता कर रहे कुलपति प्रोफेसर आलोक कुमार चक्रवाल ने उपस्थित समस्त जनों को नववर्ष 2023 की शुभकामनाएं प्रेषित करते हुए कहा कि वर्ष 2022 के ल्क्ष्यों को हमने साथ मिलकर प्राप्त किया और आने वाले समय में भी सभी एकसाथ मिलकर विश्वविद्यालय को राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय अकादमिक मानचित्र पर सशक्त हस्ताक्षर के रूप में स्थापित करेंगे। उन्होंने कहा कि इस नूतन वर्ष 2023 सभी के जीवन में संपन्नता, सकारात्मकता, संपूर्णता, सजीवता, सामंजस्य और आरोग्य का समावेश हो।
उन्होने कहा कि हम सभी को विश्वविद्यालय को बेहतर आयाम प्रदान करने के लिए पूर्व की भांति इस वर्ष भी एकजुटता की भावना के साथ कार्यों को संपादित करना होगा। उन्होंने उम्मीद जताई कि विश्वविद्यालय द्वारा भारत सरकार के उच्च शिक्षा मंत्रालय के प्रेषित नवीन प्रशासनिक भवन के प्रस्ताव को जल्दी ही अनुमति मिल जायेगी। कुलपति प्रो. चक्रवाल ने आशा व्यक्त की कि आने वाले वर्षों में विश्वविद्यालय की अकादमिक प्रगति एवं अधोसंरचना विकास अन्य उच्च शैक्षणिक संस्थानों के लिए केस स्टडी के रूप में प्रस्तुत की जावेगी।
बैठक के दौरान विश्वविद्यालय द्वारा एनआईआरएफ रैंकिंग के लिए किये जा रहे प्रयासों की कुलपति प्रोफेसर चक्रवाल ने सराहना करते हुए आवश्यक निर्देश प्रदान किये। उन्होंने कहा कि विश्वविद्यालय को देश के प्रथम सौ उच्च शिक्षण संस्थानों की सूची में शामिल कराना हमारा प्राथमिक लक्ष्य है इसके लिए हम एनआईआरएफ के विभिन्न मानदंडों के अनुरूप प्रगति कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि साल के पहले दिन हम सभी को संकल्प लेना चाहिए कि आने वाले वर्ष में समर्पण, दृढ़ता, निरंतरता के साथ अपने समस्त कर्तव्यों एवं दायित्वों का पूर्ण निष्ठा के साथ निर्वाहन करेंगे साथ ही विद्यार्थियों से जुड़े विभिन्न पहलूओं को सर्वोच्च प्राथमिकता के आधार पर निराकृत करेंगे।
कुलपति प्रोफेसर चक्रवाल ने बैठक में कुल उत्सव के अवसर पर आईक्यूएसी द्वारा वर्ष 2019, 2020 तथा 2021 के श्रेष्ठ शोध पत्र पुरस्कार एवं श्रेष्ठ शिक्षक पुरस्कार प्राप्त करने वाले शिक्षकों को और बेहतर प्रदर्शन करने हेतु प्रेरित किया। इस अवसर पर कुलसचिव प्रो. मनीष श्रीवास्तव ने भी अपने विचार रखे। बैठक में ऑनलाइन माध्यम से अतिथि शामिल हुए। बैठक का संचालन एवं धन्यवाद ज्ञापन आंतरिक गुणवत्ता आश्वासन प्रकोष्ठ के निदेशक प्रो. ए.एस. रणदिवे ने किया।

जिले में मिले 215 मरीज..बिलासपुर में 170 संक्रमित..कोने कोने में पाए गए कोविड
Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS