पहली बार हुआ केशकाल के मारी क्षेत्र के होनहेड़ जलप्रपात में नाईट कैंपिंग,पर्यटकों ने बॉन फायर कर देखा जुगनू ट्रेल

Shri Mi
2 Min Read

कोण्डागांव/पर्यटन को बढ़ावा देने कोण्डागांव ज़िले के केशकाल क्षेत्र के होनहेड (कटुलकसा) जलप्रपात में जिला प्रशासन के सहयोग से पहली बार कैंपिंग एवं ट्रेकिंग का आयोजन किया गया। जिसमें अलग-अलग प्रांतो से बड़ी संख्या में पर्यटक पहुंचें। कैंपिंग की सम्पूर्ण व्यवस्था स्थानीय ग्रामीणों की पर्यटन समिति के द्वारा किया गया था। दूरदराज से आये पर्यटकों ने आयोजन का लुफ्त उठाते हुये प्रशासन एवं समिति द्वारा की गयी व्यवस्थाओं की सराहना किया। इस अभिनव पहल से क्षेत्र में पर्यटन विकास की संभावनाओं को प्रबलता प्रदान किया है।

पर्यटकों ने देखा कैम्प लगा बॉन फायर कर देखा जुगनू ट्रेल, सुनी कहानियां और की ट्रेकिंग
दो दिवसीय इस कार्यक्रम में पर्यटकों को दोने और पत्तलों में स्थानीय भोजन खाना परोसा गया तथा पर्यटकों से भी यह निवेदन किया गया की वे ईको टूरिस्म को बढ़ावा देने में सहयोग प्रदान करें। यहाँ पर्यटकों के रुकने के लिए कैंपिंग टेंट की व्यवस्था कराई गयी थी साथ ही पर्यटकों के लिये बॉन फायर, किस्से-कहानियां साथ ही रात के समय जंगलो में जुगनू ट्रेल कराया गया। जिसमें पर्यटकों ने अँधेरी रात में झिलमिलाति जुगनुओं का अनोखा नज़ारा देखने को मिला। पर्यटकों के लिए दूसरे दिन सुबह ट्रैकिंग का आयोजन किया गया।  जिसमें पर्यटकों को विभिन्न वनस्पति एवं पक्षियों को दिखाया गया तथा जलप्रपात में स्नान का भी उन्होने खूब लुफ्त उठाया।  

ज़िले में पर्यटन की असीम संभावनाओं को देखते हुए प्रशासन द्वारा अलग- अलग  पर्यटन क्षेत्रों में हर महीने कोई न कोई पर्यटन गतिविधियां करवाई जा रही हैं। जिससे स्थानीय पर्यटन समितियों को रोज़गार के अवसर प्राप्त हो रहे है तथा लोगों तक जिले के आज तक छुपे हुए पर्यटन की संभावनाओं की जानकारी मिल रहीे है। जिससे अब न सिर्फ आस पास के जिलों अपितु अन्य राज्यों के पर्यटकों को भी कोण्डगाांव के पर्यटन स्थल आकर्षित कर रहे है।

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close