सीडीकाण्ड का सच आएगा सामने..भूपेश ने कहा…अन्तागढ़ की भी हो जांच…गुलाबी गैंग के सदस्य हैं धरमजीत

bhupesh-बिलासपुर– देर सबेर जांच पड़ताल के बाद सीडी की सच्चाई सामने आ जाएगी। मंत्री को बचाने मामले को दबाने बहुत जल्दबाजी में सरकार ने सीबीआई जांच का एलान कर दिया। अच्छा होता कि ऐसी जल्दबाजी झीरमकाण्ड मामले को लेकर भी होती। झीरम हत्याकाण्ड में प्रदेश ने अग्रिम पंक्ति के नेताओं को खोया। नक्सलियों से सांठगाठ कर कांग्रेस नेताओं को मौत के घाट उतारा गया। अंतागढ़ टेपकाण्ड की भी जांच हो जाती तो दूध और पानी अलग अलग हो जाता। यह बातें बिलासपुर में एक कार्यक्रम के बाद पीसीसी अध्यक्ष भूपेश बघेल ने कही।

                         भूपेश बघेल ने कहा कि सीडी काण्ड की सच्चाई सामने आ ही जाएगी।यह बात भी सामने आएगी कि इसमें किसने और किसकी मदद की है। मंत्री को बचाने के लिए सरकार को बहुत पापड़ बेलना पड़ा है। आनन फानन में मामले को सीबीआई के हवाले कर दिया गया। अच्छा होता की झीरम काण्ड के बाद मामले को सीबीआई के हवाले कर दिया जाता।  लेकिन ऐसा नहीं किया गया ।

                                             सवाल का जवाब देते हुए भूपेश ने कहा कि जब सीएम को सीबीआई पर इतना ही भरोसा है तो अंतागढ़ टेपकाण्ड की भी जाच करवा दें। टेप में आवाज किसकी है सबको मालूम हो जाए। वैसे भी अंतागढ़ टेप से सिद्ध हो चुका है कि अजीत जोगी और सरकार के बीच कितनी अच्छी बांडिंग है। दम हो तो टेप को सीबीआई के हवाले कर दें। भूपेश ने बताया कि सरकार सीडी काण्ड में बुरी तरह से फंस चुकी है। किसी के कहने से सीडी फर्जी और असली नहीं हो सकती है।

                 झीरम काण्ड सीबीआई जांच पर भूपेश ने कहा कि नक्सलियों ने प्रदेश के अग्रिम  पंक्ति के नेताओं को मौत के घाट उतार दिया। बावजूद इसके सरकार ने मामले को गंभीरता से नहीं लिया। दिनेश पटेल और महेन्द्र कर्मा की नृशंस हत्या हुई। दोनों का सिर पत्थर से कुचला गया। बावजूद इसके सरकार ने सीबीआई जांच की मांग नही की। लेकिन प्रिय मंत्री को बचाने मामले को तत्काल सीबीआई के हवाले कर दिया गया।

                     भूपेश ने बताया कि जांच पूरी होने से पहले सरकार मंत्री को क्लीन चिट दे रही है। आखिर इसकी वजह क्या है सरकार को बताना होगा। इसका अर्थ यह भी है कि सीबीआई वही करेगी जिसकी स्क्रिप्ट सरकार ने पहले से ही लिख रखी है। एक सवाल के जवाब में भूपेश ने कांग्रेस में गुटबाजी से इंकार किया। इस बात से भी इंकार किया कि सीडी काण्ड प्रायोजित है। संगठन चुनाव में गुटबाजी को खत्म करने के लिए प्रसारित किया गया । भूपेश ने बताया कि संगठन चुनाव अपनी जगह है। सीडी से इसका कोई लेना देना नहीं है।

                             भूपेश ने सवाल को एक सिरे से इंकार इंकार किया कि संगठन चुनाव की गुटबाजी को खत्म करने सीडी को प्रयोजित तरीके से सामने लाया गया। धरमजीत के बयान पर भूपेश ने कहा कि अण्डा कहने वाले ही समझे कि अण्डे का क्या अर्थ है। इतना जरूर है कि धरमजीत की पार्टी जनता कांग्रेस नहीं बल्कि गैंग है जिसे लोग गुलाबी गैंग कहते हैं। उन्होने कहा कि कांग्रेस देश की बड़ी पार्टी है,,,यहां ना तो कार्यकर्ताओं की कमी है और ना ही नेताओं की कमी। धरमजीत सिंह को भी मालूम है कि पार्टी में उनकी स्थिति क्या है। पहले अपनी देखें फिर कांग्रेस के बारे में बयान दें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *