जीपीएम पुलिस कप्तान पर हाथियों का हमला.. पत्नी को बचाते बंसल घायल..अपोलो रिफर..

बिलासपुर— गौरेला पेन्ड्रा मरवाही पुलिस कप्तान को जंगली हाथियों के दल ने घेरकर हमला किया है। हमले में पुलिस कप्तान त्रिलोक बंसल को गंभीर चोट पहुंची है। किसी तरह पुलिस टीम और वन विभाग की टीम ने एसपी त्रिलोक बंसल को बचा लिया है। बताया जा रहा है कि घटना पत्नी को हाथियों से बचाते समय हुई। बहरहाल डाक्टरों ने पुलिस कप्तान को गंभीर हालत में प्राथमिक उपचार के बाद अपोलो रिफर किया है। जल्द ही पुलिस कप्तान को लेकर जीपीएम की टीम एक घण्टे के अन्दर अपोलो पहुंच जाएगी।

                    गौरेला पेन्ड्रा मरवाही पुलिस कप्तान को हाथियों के झुण्ड ने घेरकर हमला किया है। हमले में पुलिस कप्तान त्रिलोक बंसल गंभीर रूप से घायल हुए हैं।

            जीपीएम एडिश्नल एसपी ने बताया कि दोपहर को एसपी त्रिलोक बंसल कार्यालय में थे। इसी दौरान जानकारी मिली कि हाथियों की टीम कोटमी पहुंच गयी है। लोग में दहशत का वातावरण है। पुलिस प्रशासन के अलावा वन विभाग ने पुलिस कप्तान को बताया कि हाथियों का झुण्ड घण्टे दो घण्टे बाद निकल जाएंगे।

               बावजूद इसके पुलिस कप्तान ने सतर्कता दिखाते हुए कोटमी की तरफ रवाना हुए। इसी दौरान उनकी पत्नी भी पहुंच गयी। इसके बाद पुलिस टीम के साथ पुलिस कप्तान बंसल पत्नी के साथ कोटमी के लिए रवाना हुए।

                           मौके पर पहुंचने के बाद ग्रामीणों ने बताया कि कुत्ता भौंक रहा है। हाथियों का दल आसपास है। लेकिन पुलिस कप्तान ग्रामीणों की सुरक्षा को ध्यान में रखकर हाथियों के झुण्ड की तरफ गए। साथ में पत्नी भी थी। इतने में हाथियों का दल पुलिस कप्तान को दौड़ा लिया। भागते समय पुलिस कप्तान की पत्नी रास्ते में गिर गयी। और हाथियों का दल नजदीक पहुंच गया। पत्नी को संभालने जैसे ही पुलिस कप्तान मौके पर पहुंचे। इसके पहले एसपी बंसल पत्नी को बचा पाते हाथियों के झुणड ने दोनों को घेर लिया। बताया जा रहा है कि हाथियों ने पुलिस कप्तान पर हमला कर दिया। लेकिन समय रहते सुरक्षा अमला ने हाथियों को किसी तरह तितर बितर किया। 

              तत्काल डाक्टरों की टीम मौके पर पहुंची। अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद गंभीर पुलिस कप्तान को अपोलो रिफर किया गया। स्थानीय पुलिस के अनुसार  पुलिस कप्तान के सिर पर चोट पहुंची है। लेकिन स्थित ठीक है। हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *