मेरा बिलासपुर

कार्यपालन अभियंता और ठेकदार को फटकार..विधायक ने किया अरपा प्रोजेक्ट का निरीक्षण.पाण्डेय ने कहा 3 दिन में शुरू करें काम..अन्यथा सख्त कार्रवाई के लिए रहें तैयार

बिलासपुर—नगर विधायक शैलेष पांडेय अधिकारियों के साथ अरपा प्रोजेक्ट के काम काज का जायजा लेने ग्राउन्ड जीरो पहुंचे। इस दौरान पाण्डेय ने निर्माणाधीन बैराज का निरीक्षण किया। प्रोजेक्ट की कछुआ चाल और फिलहाल काम बन्द होने की जानकारी पर विधायक ने नारजागी जाहिर किया। उन्होने मौके पर मौजूद कार्यपालन अभियंता और ठेकेदार तो जमकर फटकारा। पाण्डेय ने कहा कि तीन दिन के भीतर प्रोजेक्ट का काम शुरू किया जाए। यदि निर्देशो का पालन नही किया जाता है तो अधिकारी और ठेकेदार सख्त कार्रवाई के लिए तैयार रहें। विधायक ने दो टूक कहा कि 100 करोड़ की लागत से अरपा पर बनाया जा रहा बैराज मुख्यमंत्री का ड्रीम प्रोजेक्ट है। बिलासपुर का सपना भी है। यदि लापरवाही की शिकायत मिलती है तो मामला सीएम तक जाएगा। इसके बाद क्या होगा..आप लोग खुद समझदार है। 
 
                  बुधवार को नगर विधायक शैलेष पांडेय अधिकारियों के साथ अरपा नदी पर निर्माणाधीन राज्य सरकार की बहुप्रतीक्षित योजना का जायजा लेने शिव घाट और पचरी घाट पहुंचे। इस दौरान विधायक ने निर्माणाधीन दोनों बैराज का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान बताया गया कि प्रोजेक्ट का काम काज पिछले डेढ़ महीने से बन्द है। इतना सुनते ही विधायक भड़क गए। मौके पर मौजूद कार्यपालन अभियंता और ठेकेदार को जमकर फटकारा। 
 
             विधायक शैलेष पांडेय ने कहा कि यह परियोजना केवल 100 करोड रुपए की नहीं है बल्कि बिलासपुर की जनता का सपना है। इस सपने को साकार करने के लिए हमें तय समय सीमा में कार्य पूर्ण करने होंगे। विधायक शैलेष पांडेय ने सख्त लहजे में कहा कि 3 दिन के भीतर यदि कार्य शुरू नहीं हुए तो अधिकारियों और ठेकेदार के ऊपर सख्त से सख्त कार्यवाही होगी। 
 
                       उन्होंने कहा यह जानते हुए भी कि बनाए जा रहे दोनो बैराज मुख्यमंत्री का ड्रीम प्रोजेक्ट है। बावजूद इसके काम का रोका जाना नाकाबिले बर्दास्त है।काम बन्द होने की जानकारी मख्यमंत्री के संज्ञान मे लाया जाएगा।  विधायक ने दुहराया कि शिवघाट और पचरीघाट पर बनाया जा रहा बैराज बिलासपुर के विकास की जीवन रेखा है। बैराज का कई बार निरिक्षण कर अधिकारियों को तय समय सीमा में निर्माण कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिया जाता रहा है। बैराज निर्माण का काम पूरा होने के बाद अरपा में पानी का भराव साल भर रहेगा। बिलासपुर शहर के साथ अंचल के लोगों को पानी उपलब्ध हो सकेगा। 
 
                                  
                 विधायक ने बताया कि बिलासपुर की जीवन दायिनी नदी अरपा में चल रहे बैराज निर्माण बनने के बाद बिलासपुर समेत आसपास के क्षेत्रों में जलसंकट खत्म हो जाएगा। गर्मी में भी बिलासपुर का जलस्तर ठीक ठाक रहेगा।
 
दो बैराज..100 करोड़
 
   जानकारी देते चलें कि शासन ने शिवघाट और पचरीघाट में एक एक बैराज बनाने का फैसला किया। दोनो बैराज कुल 100 करोड़ की लागत से तैयार होगा। शिव घाट बैराज में 24 गेट होगा। बैराज की लंबाई 334 मीटर, ऊंचाई 3.5 मीटर और चौड़ाई 7.5 मीटर निर्धारित है। पचरीघाट में 20 गेट निर्माणाधीन है। बैराज की लंबाई 278 मीटर, चौड़ाई 7.5 मीटर है। 
 
निरीक्षण के दौरान मौजूद अधिकारी
 
                 निरीक्षण के दौरान  अधीक्षण अभियंता जे आर भगत, मुख्य अभियंता ए. सी सोमवार, कार्यपालन अभियंता डी जायसवाल, एसडीओ के के सिंह, पार्षद शहजादी कुरैशी, भरत कश्यप, रामा बघेल, एल्डरमैन शैलेंद्र जयसवाल, दीपांशु श्रीवास्तव, अखिलेश गुप्ता बंटी, सुबोध केसरी, अजरा खान, श्याम लाल चंदानी, सुभाष ठाकुर, ब्लॉक अध्यक्ष थावरानी, आशा सिंह, अनुराधा राव, अजय काले, सुदेश नंदिनी, नीरज खटीक, शुभम पानीकर, उमेश वर्मा, कप्तान खान, आदर्श पवार, रेहान रजा सहित बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे।

जब पति ने किया नाजायज संबध का विरोध..तो पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर उतारा मौत के घाट.. जांच में खुलासा..20 साल का फर्क बना कारण
Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS