Gold Price in India: गोल्ड ने बनाया दूसरा बड़ा रिकॉर्ड,जानिए

Gold Price in India, Investment in Gold: अक्षय तृतीया को ज्यादा समय नहीं बचा है. देश के तमाम सर्राफा बाजारों के अलावा वायदा बाजार में भी गोल्ड के दाम में उतार चढ़ाव देखने को मिल रहा है. अगर पिछले साल किसी ने 10 ग्राम गोल्ड खरीदा होगा. तो उसकी कीमत में 11,500 रुपए से ज्यादा का इजाफा हो चुका है. जी हां पिछले अक्षय तृतीया से इस साल अक्षय तृतीया आने से पहले गोल्ड ने निवेशकों को 19 फीसदी से ज्यादा कमाई करा दी है।

Join Our WhatsApp Group Join Now

Gold Price in India, Investment in Gold: खास बात तो ये है कि बीते 10 बरस में अक्षय तृतीया से अक्षय तृतीया तक कमाई कराने के मामले में गोल्ड ने इस साल दूसरा सबसे बड़ा रिकॉर्ड बना लिया है. इससे पहले साल 2019 की अक्षय तृतीया से 2020 की अक्षय तृतीया के बीच गोल्ड ने निवेशकों को 47 फीसदी से ज्यादा कमाई कराई थी.

Gold Price in India, Investment in Gold। इतना रिटर्न मिलने की असल वजह साल 2020 में कोविड महामारी का फैलना था. जिसकी वजह से निवेशकों ने अपना ज्यादा निवेश गोल्ड में किया था. जिसकी वजह से गोल्ड की कीमत में तेजी देखने को मिली थी. आइए आपको भी बताते हैं कि आखिर गौल्ड और सिल्वर ने निवेशकों को बीते 10 साल में अक्षय तृतीया से अक्षय तृतीया के बीच कितनी कमाई कराई है.

Gold Price in India, Investment in Gold। साल 2024 के अक्षय तृतीया आने से पहले ही गोल्ड ने निवेशकों को पिछली अक्षय तृतीया के मुकाबले 19.26 फीसदी का इजाफा देखने को मिला है. खास बात तो ये है कि इस दौरान गोल्ड की कीमत में 11524 रुपए प्रति दस ग्राम का इजाफा हुआ है. जबकि साल 2020 में यह कमाई मौजूदा साल के मुकाबले दोगुना से भी ज्यादा था.

Gold Price in India, Investment in Gold। साल 2019 के अक्षय तृतीया से 2020 के अक्षय तृतीया के बीच गोल्ड की कीमत में 47.41 फीसदी का इजाफा देखने को मिला. जबकि साल 2025 में अक्षय तृतीया के मौके पर सा14 के अक्षय तृतीया के मुकाबले गोल्ड के दाम 6.11 फीसदी कम थे. कुछ ऐसा ही हाल साल 2017 की अक्षय तृ​तीया के मौके पर भी देखने को मिला था. उस साल 2016 में अक्षय तृ​तीया के मौके पर गोल्ड के दाम थे 2017 में उससे भी कम हो गए थे. यह आंकड़ा करीब 5 फीसदी का था.

बीते 10 साल में गोल्ड ने दिया इतना रिटर्न

साल सोने का क्लोजिंग प्राइज (रुपए प्रति 10 ग्रााम में) रिटर्न (फीसदी में)
21 मई 2015 27,108 -6.11
6 मई 2016 30,378 12.06
28 अप्रैल 2017 28,873 -4.95
17 अप्रैल 2018 31,383 8.69
6 मई 2019 31,563 0.57
24 अप्रैल 2020 46,527 47.71
14 मई 2021 47,676 2.47
3 मई 2022 50,805 6.57
21 अप्रैल 2023 59,845 17.79
6 मई 2024 71,369 19.26

चांदी में दिखा उतार-चढ़ाव

Gold Price in India, Investment in Gold।अगर चांदी की बात करें तो चांदी ने निवेशकों को सिर्फ 5 बार ही पॉजिटिव रिटर्न दिया है. खास बात तो ये है कि इस बार ये रिटर्न 2023 के मुकाबले काफी कम देखने को मिला है. साल 2023 में अक्षय तृतीया के मौके पर चांदी ने निवेशकों को 18 फीसदी से ज्यादा का रिटर्न दिया था. जो इस बार 6 मई तक सिर्फ 11 फीसदी पर आकर अटक गया. बीते 10 बरस में साल 2021 में चांदी ने निवेशकों को 69 फीसदी का बंपर रिटर्न दिया था.

जोकि एक तरह से अप्रत्याशित कहा जा सकता है. ये वो दौर था, जब देश में कोरोना की सेकंड वेव का असर अपने जोरों पर चल रहा था. साल 2015 में निवेशकों करीब 8 फीसदी का नुकसान उठाना पड़ा था. इन 10 सालों में चांदी ने निवेशकों को सबसे ज्यादा नुकसान साल 2022 में पहुंचाया, जब कीमतें 2021 के मुकाबले 11 फीसदी से ज्यादा कम हो गई थी.

                   

Shri Mi

पत्रकारिता में 8 वर्षों से सक्रिय, इलेक्ट्रानिक से लेकर डिजिटल मीडिया तक का अनुभव, सीखने की लालसा के साथ राजनैतिक खबरों पर पैनी नजर
Back to top button
close