SDM के माध्यम से सरकार को दी चेतावनी,किसान पंजीयन में करें सुधार नहीं तो होगा उग्र आंदोलन-भाजपा

रामानुजगंज(पृथ्वीलाल केशरी)-भाजपा मंडल रामानुजगंज के पूर्व महामंत्री मेहीलाल आयाम के नेतृत्व में सैकड़ो किसानों ने रामानुजगंज एसडीएम को ज्ञापन सौंपकर अवगत कराया कि वन अधिकार पट्टा की भूमि का फसल विवरण नेट में नहीं चढ़ाए जाने से धान की विक्री हेतु पंजीयन नहीं हो पा रहा है जिससे किसान हतास और परेशान हैं. किसान पंजीयन में सरकार की हिटलरशाही नीति का विरोध करते हुए एसडीएम के माध्यम से सरकार को चेतावनी दी गई है कि जल्द ही इस दिशा में कोई सकारात्मक पहल नहीं किया जाता है. तो भाजपा द्वारा उग्र आंदोलन किया जाएगा.गौरतलब है कि प्रदेश में किसान पंजीयन हेतु अंतिम तारीख 10 नवम्बर निर्धारित की गई है इस बीच पूर्व से पंजीकृत लगभग 2 हजार किसानों का रकबा शून्य कर दिया गया है और वन अधिकार पट्टा धारियों का फसल विवरण नेट में नहीं चढ़ाए जाने से पंजीयन नहीं हो पा रहा है.

साथ ही गिरदावली के नाम पर किसानों के जिस खेत मे धान का फसल लगा हुआ है उसमें भी मक्का लिखकर अपडेट कर दिया गया है. जिससे किसानों की धान का रकबा घट गया है. ऐसे में किसानों को अपनी धान बेचने में काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा.उक्त समस्या को लेकर भाजपा मंडल रामानुजगंज के पूर्व महामंत्री मेहीलाल आयाम ने अनुविभागीय अधिकारी राजस्व रामानुजगंज को ज्ञापन सौंपकर तत्काल इस संबंध में सकारात्मक पहल कर किसानों के पंजीयन में धान का रकबा बढ़ाए जाने की मांग की है.

सरकार के निर्देश पर किसानों की रकबे में जो कटौती की गई है. यदि सीघ्र ही उसे सुधारा नहीं जाता है. तो स्थानीय किसानों के साथ भाजपा द्वारा उग्र आंदोलन किया जाएगा, इस दौरान मेहीलाल आयाम के साथ क्षेत्र से आए सैकड़ो किसान उपस्थित रहे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *