VIDEOः जय सिंह..काहे का कद्दावर नेता…इस बार 12 के भाव से निपट गए…बोले उद्योग मंत्री..2 लाख वोट से जीतेंगी सरोज…राहुल ने किया बंटाधार

बिलासपुर— सरोज पाण्डेय को बाहरी नेता कहने वाले लोगों से पूंछता हूं कि कोरबा के लिए ज्यात्सना महंत क्या हैं। सरोज पाण्डेय राष्ट्रीय नेता हैं। उन्हें प्रदेश ही नहीं पूरा देश जानता है। जयसिंह और ज्योत्सना उनके आगे कहीं ठहरते हैं। दो लाख वोट से सरोज पाण्डेय जीतेंगी। यह बातें उद्योग एवं श्रम मंत्री लखनलाल देवांगन ने पत्रकारों से चर्चा के दौरान कही। लखनलाल देवांंगन ने कहा कि जय सिंह काहे का कद्दावर नेता हैं। पैसा बांटकर दो तीन बार विधानसभा चुनाव जीत गए हैं। इस बार ठीक प्रत्याशी मिला…तो जय सिंह 12 के भाव से निपट गए। उन्होने बताया कि राहुल गांधी की भारत यात्रा से कोई फर्क नहीं पड़ने वाला है। सच तो यह है कि राहुल गांधी ने कांग्रेस का बंटाधार किया है।

Join Our WhatsApp Group Join Now

नई उद्योग नीति में सभी पहुलुओं का ध्यान

श्रम एवं उद्योग मंत्री लखनलाल देवांगन रायपुर प्रवास के दौरान बिलासपुर पहुंचे। इस दौरान उन्होने पत्रकारों से संवाद किया। सवाल जवाब के दौरान मंत्री ने कहा कि नई उद्योग नीति तैयार हो रही है। जल्द ही तैयार किया जाएगा। उद्योंगपतियों को प्रदेश में उद्योग निवेश के लिए आमंत्रित करेंगे। स्थानीय लोगों को नई नीति में तवज्जो दिया जाएगा। वर्तमान उद्योग नीति 2024 में खत्म हो जाएगा।

लखनलाल देवांगन ने बताया कि उद्योग नीति बनाते समय सर्वहित  का ध्यान रखा जाएगा। 7 मार्च को उद्योग नीति को लेकर बैठक होगी। उसमें एक्सपर्ट के साथ नई उद्योग नीति को लेकर चर्चा करेंगे। उद्योग नीति तैयार करते समय दिव्यांग समेत अन्य आरक्षण संबधित प्रावधानों को गंभीरता के साथ शामिल किया जाएगा।

शिकायतों की करेंगे जांच

बिलासपुर में उद्योग के लिए दिए गये जमीन का अभी तक उपयोग ही नहीं हुआ है। लोग एलाट जमीन से ज्यादा पर काबिल हो गए हैं। कुछ लोगों ने जमीन किराए या लीज पर दे दिया है। 7 मार्च को हमारी बैठक है। एलाट जमीन पर उद्योग स्थापित यदि नहीं किया गया है तो जमीन नियमानुसार स्वतः निरस्त हो जाता है। फिर भी इस बारे में पूछताछ करेंगे…उचित कार्रवाई करेंगे। ज्यादा जमीन काबिज लोगों को हटाया जाएगा। जल्द ही इस मामले में हम बैठक भी करेंगे।

सरोज यदि बाहरी तो ज्योत्सना क्या हैं

टिकट वितरण के बाद चर्चा है कि सरोज पाण्डेय बाहरी प्रत्याशी हैं। प्रत्याशी एलान के बाद कोरबा लोकसभा क्षेत्र में सरोज पाण्डेय को लेकर जबरदस्त उत्साह है। उन्होने बताया कि सरोज पाण्डेय दो दिन पहले जबरदस्त स्वागत किया गया है। सरोज पाण्डेय छत्तीसगढ़ की हैं..लोकसभा वड़ा क्षेत्र होता है। सरोज पाण्डेय बाहरी हो ही नहीं सकती है। ऐसे में ज्योत्ना महंत भी बाहरी प्रत्याशी हैं। लेकिन कोरबा की सांसद हैं। लखनलाल ने बताया कि सरोज पाण्डेय राष्ट्रीय नेता हैं।

पार्टी ने उन्हें बहुत दिया

जय सिंह और ज्योत्सना महंत में कौन टक्कर देगा। उद्योग मंत्री ने बताया कि सरोज पाण्डेय राष्ट्रीय नेता हैं। दो लाख वोट जीतेंगी। रही बात लखनलाल देवांगन को टिकट नहीं दिए जाने की बात तो स्पष्ट करना चाहूंगा कि गांव के एक व्यक्ति पार्टी ने उम्मीद से ज्यादा दिया है। पार्षद से मंत्री तक पहुंचा। इसकी वजह पार्टी ही है। उन्हें टिकट नहीं दिया जाना और बृजमोहन को टिकट दिए जाने के पीछे पार्टी की अपनी रणनीति है।

जय सिंह काहे का कद्दावर नेता

आखिर जय सिंह अग्रवाल के नाम लेते आप हिचकिचाना शुरू कर देते हैं। वह प्रदेश के कद्दावर नेता हैं..सरोज पाण्डेय पर भारी पड़ेंगे। तैश में आकर श्रम मंत्री ने कहा कि जय सिंह काहे का कद्दावर नेता है। उन्हें कौन कद्दावर नेता मानता है। दो तीन विधानसभा पैसे के दम पर जीत गया। इससे कद्दावर नेता कैसे बन गया। इस बार ठीक ठाक प्रत्याशी मिल गया तो…जय सिंह 12 के भाव से निपट गए। यदि जय सिंह मैदान में उतरेंगे तो सरोज पाण्डेय 2 लाख वोट से जीतेंगी।

राहुल गांधी ने किया बंटाधार

इस बार लोकसभा में कांग्रेस की स्थिति अच्छी रहेगी। पूर्व मंत्री रविन्द्र चौबे ने दावा किया है कि राहुल गांधी की न्याय यात्रा का असर दिखायी देगा। लखनलाल देवांगन ने कहा इस बार भाजपा सभी 11 सीट जीत रही है। देश में भाजपा 400 पार सीट पा रही है। दरअसल राहुल गांधी ने कांग्रेस का बंटाधार कर दिया है। कांग्रेस को एक भी सीट नहीं मिलने वाली है।

                   

Back to top button
close