मुख्यमंत्री ने निभाया शिक्षाकर्मियों के संविलियन का वादा, एकता मंच ने कहा- घोषणा के अनुरूप हो कार्यवाई

Merger , Shikshakarmis,merged,list ,Assistant Teacher LB,नए साल ,संविलियन ,शिक्षक,पंचायत,संवर्ग , संविलियन प्रक्रिया , CEO , पत्र,कारवाई

बिलासपुर।मुख्यमंत्री ने बजट में संविलियन का वादा निभाया इस  फैसले का वरिष्ठ शिक्षा कर्मी संघ व संचालक एकता मंच स्वागत करता हैै। बजट पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए अजय उपाध्याय ने बताया कि शिक्षको पर लगी शिक्षाकर्मी की छाप आज बजट में खत्म हो गई है।जिसके लिए मुख्यमंत्री बधाई के पात्र है। अब प्रशासन ने सभी के संविलयन की कार्यवाही पूरी तरह से घोषणा के अनुसार होनी चाहिए। इस पर टालमटोल रवैया नही होना चाहिए.अजय ने बताया कि पूर्व सरकार कार्यकाल के दौरान हमने सभी का संविलयन की कार्यवाही के लिए कमेटी की बैठक में एकता मंच की ओर से वरिष्ठ शिक्षा कर्मी संघ छत्तीसगढ़ ने बहुत जोरदार तरीके से संविलयन के लिए पुख्ता दस्तावेजों को कमेटी के सामने प्रस्तुत किया था । सीजीवालडॉटकॉम के व्हाट्सएप न्यूज़ ग्रुप से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

जिसे तत्कालीन मुख्य सचिव अजय सिंह व मुख्यमंत्री ने ज्यों का त्यों कबूल कर लिया और आठ साल पूरी कर चुके शिक्षा कर्मियों के संविलयन के लिए नियम बना दिया था। जो किसी को भी मंजूर नही था। मरते क्या न करते संविलियन स्वीकार किया ।

अजय ने बताया कि हमने पूर्ण संविलियन की मांग की थी पर मिली अधूरी थी। आज हुए संविलियन से प्रदेश में शिक्षा कर्मी का अध्याय खत्म हो गया है।अपने हक के लिए सरकार से संघर्ष अभी बचा है। क्योकि मांगे अभी बाकि है।

Comments

  1. By अजय उपाध्याय प्रदेश अध्यक्ष वरिष्ठ शिक्षा कर्मी संघ छत्तीसगढ़

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *