आया नमक का बम्पर स्टाक..कमी को खाद्य अधिकारी ने बताया अफवाह.. कहा…कालाबाजारी पर शासन की नजर

बिलासपुर—- जिला खाद्य नियंत्रक हिजकिएल मसीह ने कहा कि लोग अफवाह पर ध्यान ना दें। क्योंकि कहीं कोई नमक की कमी नही है। खाद्य विभाग की नजर एक एक व्यापारियों पर है। स्टाक भी पर्याप्त है।आज सुबह रायपुर से 200 टन नमक आया है। स्टाकिस्टों को स्पष्ट निर्देश दिया गया है कि किसी प्रकार की गफलतबाजी को बर्दास्त नहीं किया जाएगा। क्योंकि अफवाह फैलाने वालों के अलावा व्यापारियों पर नजर रखने टीम का गठन किया गया है। टीम की एक एक गतिविधियों पर नजर है।सीजीवालडॉटकॉम के व्हाट्सएप NEWS ग्रुप से जुडने के लिए यहाँ क्लिक कीजिये

टीम का किया गया गठन

               जानकारी हो कि पिछले तीन दिनों से प्रदेश समेत जिले में नमक को लेकर जमकर अफवाह सुनने को मिली। नमक की कमी की जानकारी के बाद आम जनता ने धड़ाधड़ नमक खरीदना शुरू कर दिया। जिसके चलते बाजार में नमक की कालाबाजारी शुरू हो गयी। इसके बाद जिला प्रशासन हरकत में आयी। कलेक्टर संजय अलंग ने बताया कि कहीं नमक की कमी नहीं है। जिले में नमक का पर्याप्त स्टाक है। कलेक्टर ने टीम का गठन कर कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का आदेश भी दिया। टीम में तहसीलदार बिलासपुर के अलावा खाद्य निरीक्षक अजय कुमार मौर्य, खाद्य सुरक्षा अधिकारी देवेन्द्र कुमार मौर्य, नापतौल निरीक्षक निलुषा मिश्रा को गतिविधियों पर पल-पल नजर रखने को कहा गया। बताते चलें कि ब्लाक स्तर पर भी कलेक्टर ने निगरानी कमेटी का गठन किया है।

                जिला खाद्य नियंत्रक हिचकिएल मसीह ने बताया कि जिले में जरूरत से ज्यादा स्टाक है।नमक की कोई कमी नहीं है। लोगों को अफवाह पर ध्यान देने की जरूरत नहीं है। जिले में प्रति महीने मात्र 75 टन की खपत है। लेकिन हमारे पास इससे कहीं ज्यादा स्टाक है।

जिले में कुल स्टाकिस्टों की संख्या

                           बिलासपुर में नमक कारोबार से जुड़़े कुल 6 स्टाकिस्ट हैं। स्टाकिस्टों का दुकान व्यापार विहार में है। नमक स्टाकिस्ट फर्म का नाम रवि ट्रैडर्स, निशानिया ट्रेडर्स, आदित्य ट्रैडर्स, विश्वनाथ एण्ड सन्स ट्रैडर्स, नेशनल ट्रैडर्स और विजय लक्ष्मी ट्रैडर्स है। 

200 टन नमक आया

                  हिचकिएल ने जानकारी दी कि आज ही सुबह विजय लक्ष्मी ट्रैडर्स ने 200 टन नमक रायपुर से बुलाया है। जानकारी के बाद हम लोग भी मौके पर पहुंचकर स्टाक का वेरीफिकेशन किया है। इस दौरान अन्य फर्म के संचालकों ने बताया कि लाकडाउन के चलते नमक का परिवहन नहीं हुआ। बावजूद इसके हमारे पास नमक का पर्याप्त स्टाक है। शार्टेज का सवाल ही नहीं है। फर्म संचालकों ने जानकारी दी कि आने वाले तीन चार दिनों में नमक का लगातार परिवहन शुरू हो जाएगा। 

व्यापारियों को दिया गया जरूरी निर्देश..खाद्य अधिकारी

            व्यापारियों को निर्देश है कि स्टाक आने की जानकारी विभाग को देंगे। प्रत्येक दुकानदार को  एक डिस्प्ल बोर्ड मेन्टेन करना होगा। बोर्ड में स्टाक की जानकारी और दर को अंकित करना अनिवार्य किया गया है। थोक विक्रेता बिक्री करते समय फुटकर विक्रेताओं को शासन के निर्देशों की जानकारी देंगे। निर्देशों का पालन नहीं करते पाए जाने पर दुकानदारों पर खाद्य अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत कार्रवाई होगी। 

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...