पत्रकारों से रूबरू हुए कलेक्टर…चिटफंड कंपनियों पर होगी कार्रवाई

rajsav nirkhak adhikario ki baithak collector dwara (3)बिलासपुर— कलेक्टर अन्बलगन पी ने आज मंथन सभागार में पत्रकारों से उज्जवला योजना,धान खरीदी,पंजीयन,पटाखा भण्डारण समेत रेत उत्खनन से लेकर दीपावली और संडे बाजार व्यवस्था पर चर्चा की। उन्होने बताया कि व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए शासन स्तर पर हर संभव प्रयास किया जा रहा है। पत्र पत्रिकाओं के जरिए लोगों को जागरूक करने का भी प्रयास किया जा रहा है। कलेक्टर ने कहा कि चिटफंड कंपनियों जो शासन के मानकों को पूरा नहीं करती हैं उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। पत्रकारों से चर्चा के दौरान उन्होने कहा कि धान खरीदी के लिए किसानों का पंजीयन 22 अक्टूबर तक किया जाएगा। इस मौके पर उन्होने फसल बीमा की भी जानकारी दी।

धान खरीदी पर निगरानी

                                               पत्रकारों से कलेक्टर ने बताया कि खरीफ फसल के लिए किसानों को पंजीयन कराना होगा। पंजीयन के लिए किसानों के पास आधार नम्बर का होना जरूरी है। जिनके पास आधार नम्बर नहीं है उन्हे अस्थायी पंजीयन की सलाह दी गयी है। किसान की जानकारी को पटवारी सत्यापन करेगा। डाटा एन्ट्री से पर्ची दी जाएगी। जिसे लेकर किसान धान विक्री केन्द्र जाएगा। कलेक्टर ने बताया कि बीस प्रतिशत पंजीयन का सत्यापन तहसीलदार और वरिष्ठ राजस्व अधिकारी करेंगे।

                कलेक्टर ने बताया कि पिछली बार जिला सहकारी बैंक में धान खरीदी के दौरान नेट प्राफिट 25 करोड की हुई। बैंक को नई शक्ति मिली है। धान खरीदी के समय इस बार हमारा लक्ष्य जीरो वेस्टेज का है। इस बार करीब 77600 किसानों ने रजिस्ट्रेशन कराया है। धान खरीदी की तैयार पूरी हो चुकी है। खरीदी की निगरानी करने अधिकारियों का चैनल तैयार कर दिया गया है।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना

                    फसल बीमा की जानकारी देते हुए कलेक्टर ने बताया कि पहले तहसील स्तर को फसल बीमा का यूनिट बनाया गया था। इस बार पंचायत को बीमा यूनिट बनाया गया है। फसल खराब की स्थिति में पंचायत के पाच स्थानों का आकलन किया जाएगा। इसके बाद ही फसल बीमा का लाभ किसानों को मिलेगा। उन्होने कहा कि रवि फसल के लिए भी किसानों को प्रधानमंत्री फसल बीमा से जोड़ने का प्रयास लगातार चल रहा है।

पटाखा भण्डारण

                 कलेक्टर ने बताया कि पटाखा भण्डारण रिहायशी क्षेत्र से दूर होगा। व्यापारी नमुने के तौर पर दुकान में पटाखा रख सकते हैं। 145 डेसीबल से अधिक आवाज करने वाले पटाखों पर प्रतिबंध लगाया गया है। दुकानों समेत अधिक आवाज के पटाखों पर निकरानी के लिए थानावार टीम बनाई गयी है। टीम में प्रशासनिक अधिकारियों समेत थाना प्रभारी और अन्य लोगों को शामिल किया गया है।इस मौके पर कलेक्टर ने आतिशबाजी का सुरक्षित आनन्द लेने की बात कही। सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम रखने को कहा।

चिटफण्ड कंपनियों पर कार्रवाई

                                 कलेक्टर ने पत्रकारों को बताया कि चिटफंड कंपनियों की लगातार शिकायत मिल रही है। अन्बलगन पी ने बताया कि आरबीआई से केवल चार गैर वित्तीय कंपनियां राशि जमा करवा सकती है। इनमें से प्रमुख नाम बजाज फायनेंस,महिन्द्रा एण्ड महिन्द्रा फायनेंस,फुलेटरोन इंडिया,श्रीराम ट्रांसपोर्ट फायनेंस कम्पनी शामिल हैं। इसके अलावा 20 माइक्रोफायनंस कम्पनियां भी है जो राशि जमा करने के लिए अधिकृति नहीं हैं।

                   पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए कलेक्टर ने कहा कि संडे बाजार को चौपाटी में शिफ्ट किया जाएगा। व्यापारियों के मांग पर गौर किया जाएगा। दीपावली के समय रूट डायवर्ट किए जाएंगे। इस मौके पर उन्होने उज्जवला योजना से लाभान्वित लोगों की भी जानकारी दी।

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...