कलेक्टर ने दिया फरवरी मे अकलतरा-पामगढ़ को ओडीएफ का टार्गेट

bhartidasanजांजगीर।कलेक्टर डॉ. एस.भारतीदासन ने विकासखण्ड अकलतरा और पामगढ़ को ओडीएफ बनाने के लिए जनपद पंचायत के सीईओ को युद्ध स्तर पर कार्य करने के निर्देश दिए हैं।बाकी विकासखण्ड-बम्हनीडीह, नवागढ़, डभरा, जैजैपुर, सक्ती, बलौदा को ओडीएफ करने जून तक का समय दिया गया है। कलेक्टर ने कहा है कि निर्धारित समय में विकासखण्डों को ओडीएफ बनाया जा सके, इसके लिए सभी जगह काम जल्दी शुरू करें। दूसरे चरण में चयनित विधायक आदर्श ग्रामों में भी काम शुरू करें।

                                    कलेक्टर ने प्रधानमंत्री आवास योजना की विकासखण्डवार समीक्षा करते हुए कहा कि योजना के तहत जियो टेगिंग कर प्रकरणों को स्वीकृति के लिए जिला पंचायत सीईओ के पास भेजे। इस योजना में जिन प्रकरणों में स्वीकृति मिल चुकी है उनका त्वरित गति से एफटीओ (फंड ट्रांसफर आपरेशन) करें।बता दें कि योजना के लिए बने साफ्टवेयर में आधार नम्बर, बैंक एकाउंट और मोबाईल नंबर आदि दर्ज कर पंजीयन किया जाता है। इसके बाद जियो टेगिंग के अंतर्गत हितग्राही के निवास की वर्तमान जगह एवं योजना के तहत आवास निर्माण के लिए प्रस्तावित जगह की फोटो (जमीन की लंबाई-चौड़ाई सहित कुल क्षेत्र) अपलोड की जाती है, जबकि आवास स्वीकृति के बादएफटीओ अर्थात प्रथम किस्त की राशि 48 हजार रूपए हितग्राही के बैंक खाते में सीधे ट्रांसफर कर दी जाती है।

                              कलेक्टर ने राजस्व अधिकारियों को अविवादित और विवादित नामांतरण-बटवारा सहित सभी राजस्व सेवाओं के अंतर्गत प्राप्त प्रकरणों का समय पर निपटारा सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि जिन प्रकरणों के निराकरण की समय-सीमा खत्म हो गई है, उन्हें प्राथमिकता के साथ जल्द निराकृत करें। उन्होंने स्कूली बच्चों के जाति प्रमाण पत्र  को जल्द जारी करने के निर्देश भी दिए हैं।

                                 कलेक्टर ने कहा कि सक्ती, जैजैपुर, नवागढ़ और बम्हनीडीह में अब फिल्ड चैनल का काम शुरू कर दें। इससे पानी का अपव्यय नहीं होगा। यहां खेतों में गर्मी के दिनों में अनावश्यक रूप से पानी भरा रहता है। उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायतों के निस्तारी तालाब में जहां काम सेक्शन हो गया है, वहां तत्काल फिल्ड चेनल का काम शुरू कराए जाए। सिंचाई विभाग के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए उन्होंने कहा कि कि जिले में गर्मी के दिनों में जिन 12 सौ तालाबों को भरा जाता है, उसकी जानकारी नाली और कच्ची नाली निर्माण का प्रस्ताव जिला पंचायत सीईओ के पास प्रस्तुत करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *