धरम ने कहा जनता से होता है सीधा संवाद,,,कलेक्टर ने बताया…विकास में खर्च होंगे डीएमफ से 1 हजार करोड़ रूपए

बिलासपुर–बिल्हा ब्लॉक के बिटकुली गांव में समाधान शिविर का आयोजन किया गया। अधिकारियों ने ग्रामीणों को समस्याओं के निराकरण की जानकारी दी। इस दौरान  विभागीय अधिकारियों ने ग्रामीणों की समस्याओं को पढ़ा और निराकरण की जानकारी दी। साथ ही निरस्त आवेजनों के बारे में भी बताया गया।

                              बिटकुली समाधान शिविर में बुंदेला, झाल, गुमा, सेंवार, भटगांव, परसदा, बिटकुली, कया, पोड़ी और देवकिरारी ग्राम पंचायत के ग्रामीण शामिल हुए। अधिकारियों ने बताया कि दस गांवों से कुल 1 हजार 943 आवेदन मिले। मात्र 4 आवेदनों का निराकरण नहीं किया जा सका। चारो आवेदनों को शासन स्तर पर भेजे जाएंगे

                           समाधान शिविर में पूर्व विधानसभा अध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने कहा कि लोकसुराज के माध्यम से शासन को जनता से सीधा संवाद करने का अवसर मिलता है। इस दौरान जनता को आ रही परेशानियों को पास से समझने का भी  अवसर मिलता है। साथ ही जानने का मौक मिलता है कि योजनाओं के क्रियान्यवयन में किस प्रकार की परेशानी आ रही है। धरम ने कहा कि जनता को योजनाओं का लाभ समुचित तरीके से मिल रहा है या नहीं इस बात की भी जानकारी हो जाती है।

                      कलेक्टर पी. दयानंद ने कहा कि हमारा उद्देश्य जनता की समस्याओं का गुणात्मक निराकरण करना है। जनता की सहभागिता समाधान शिविरों को सफल बना रही है। दयानंद ने बताया कि आने वाले पांच साल में बिलासपुर जिले में डीएमएफ से 1 हजार करोड़ के विकास कार्य किये जाएंगे। शिविर में हितग्राहियों को स्टिक और वॉकर  का वितरण किया गया। राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना से तीन परिवारों को 20 हजार रूपये के चेक दिए गए।

loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...