मेरा बिलासपुर

ईनाम का झांसा देकर ठगी, एक नाबालिग सहित 9 गिरफ्तार

अंबिकापुर। लाखों रुपए ईनाम का झांसा देकर ठगी करने वाले बिहार के गिरोह को सरगुजा पुलिस ने शेखपुरा से गिरफ्तार किया है। सरगुजा पुलिस का साइबर अपराध के विरुद्ध ऑपरेशन साइबर क्लीन चलाते हुए एक नाबालिग सहित 9 अंतरराज्यीय ठग को गिरफ्तार किया है। आरोपियों के पास से 20 मोबाइल 50 सिम कार्ड सहित 11300 रूपए नगद बरामद किया गया है। बिहार में 48 घण्टे कैंप कर आरोपियों को गिरफ्तार करने में सरगुजा के पुलिस को सफलता मिली है। आरोपियों का गिरोह मिशी कम्पनी के नाम पर 25 लाख का इनाम दिए जाने का झांसा देकर कुल राशि 5,43,580 रुपए की ठगी की थी। 

नगर पुलिस अधीक्षक स्मृतिक राजनाता ने बताया कि ग्राम कपाटबहरी थाना सीतापुर निवासी हेमन्ती बड़ा ने 26 जुलाई को थाना आकर शिकायत करते हुए बताई थी कि उसके मोबाइल पर किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा  कॉल कर मीशी कम्पनी के नाम पर 25 लाख का ईनाम दिए जाने का लालच देकर 12 ट्रांजेक्शन के माध्यम से कुल राशि 543580 रुपए. की ठगी की गई है। पीडि़त महिला कि रिपोर्ट पर सदर धारा 420 भा.द.वि., एवं आईटी एक्ट की धारा 66 डी का अपराध कायम कर विवेचना में लिया गया था।

पुलिस महानिरीक्षक सरगुजा रेंज राम गोपाल गर्ग के सतत मार्गदर्शन में पुलिस अधीक्षक सरगुजा भावना गुप्ता के निर्देशन में ठगी के मामले के आरोपियों का पता तलाश कर शीघ्र गिरफ्तार करने हेतु निर्देशित किया गया था। इसी क्रम में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विवेक शुक्ला, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस (ग्रामीण)  अखिलेश कौशिक, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस सीतापुर  ध्रुवेश जायसवाल के दिशा निर्देश में सरगुजा जिले की संयुक्त पुलिस टीम आईपीएस  स्मृतिक राजनाला के नेतृत्व में विशेष टीम ऑपरेशन साइबर क्लीन के तहत गठित कर मामले के आरोपियों का पता तलाश कर गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा था।विवेचना दौरान सायबर सेल से तकनीकी जानकारी प्राप्त कर पुलिस टीम को आरोपियों की धरपकड हेतु बिहार झारखंड भेजा गया था।  पुलिस टीम के अथक प्रयास एवं साइबर सेल से प्राप्त जानकारी के आधार पर मामले की शेखपुरा बिहार से एक नाबालिग सहित 9 अंतर्राज्यीय ढंग को गिरफ्तार करने में सफलता मिली है।

कांग्रेसः अडानी को नहीं देगे दगोरी की जमीन

संयुक्त टीम द्वारा लगातार 48 घंटे कैंप कर वहां की वेश-भूषा एवं स्थानीय भाषा का उपयोग कर स्थानीय शेखपुरा पुलिस के सहयोग से अन्तरराज्यीय गिरोह को पकडऩे में सफल हुई। आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक अभिरक्षा में भेजा गया है। आरोपियों की निशानदेही पर 20 मोबाइल, फर्जी परियम पत्र के माध्यम से नारी 50 सिम अलग-अलग कम्पनियों के 15 नग एटीएम, 1 लाख रूपय से अधिक की राशि आरोपियों के खाता से होल्ड कराए गए हैं एवं 11300 रुपए नगद बरामद किया गया है। 

गिरफ्तार आरोपियों में कुसुम्मा, थाना-शेखपुरा, जिला-शेत्रपुरा, बिहार निवासी  विकास कुमार, उम्र 20 वर्ष, ,उपेन्द्र कुमार, उम्र 23 वर्ष,  मनीष कुमार उम्र 19 वर्ष,  बीरू पासवान उम्र 24 वर्ष, सुचित कुमार उम्र 24 वर्ष, निवासी दरियाचक, थाना-बरबीघा जिला-शेखपुरा, बिहार, नितिश कुमार पासवान, उम्र 23 वर्ष,  कुंदन पासवान उम्र 33 वर्ष,  सचिन कुमार पासवान, उम्र 28 वर्ष,  एवं एक नाबालिग शामिल हैं।

Back to top button
CLOSE ADS
CLOSE ADS