IAS Marriage: आईएएस परी बिश्नोई बनेगी BJP विधायक भव्य बिश्नोई की दुल्हनिया

Shri Mi
3 Min Read

IAS Marriage।राजस्थान के झीलों का शहर उदयपुर फिर से एक बार हाईप्रोफाइल शादी का गवाह बनने जा रहा है। बता दें कि हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री चौधरी भजनलाल के पौत्र और आदमपुर से बीजेपी विधायक भव्य बिश्नोई राजस्थान की रहने वाली आईएएस परी बिश्नोई से शादी कर रहे हैं। यह शादी आज शुक्रवार 22 दिसंबर को झीलों की नगरी उदयपुर में होगी।

आपको बता दें इस जोड़ी की देश में काफी चर्चा रही है। बताया जा रहा है कि शादी के बाद हरियाणा और राजस्थान में रिसेप्शन कार्यक्रम भी होंगे। 24 दिसंबर को नवयुगल जोड़ा पुष्कर केक रिसोर्ट में भी आएगा। ऐसे में यहां उनके स्वागत के लिए सैंड आर्टिस्ट अजय रावत, सैंड आर्ट बनाकर नव विवाहित जोड़े का स्वागत करेंगे।IAS Marriage

परी और भव्या की शादी आज 22 दिसंबर को उदयपुर में होने जा रही है। इसके बाद तीन जगहों पर रिसेप्शन होंगे। पहला रिसेप्शन 24 दिसंबर को राजस्थान के पुष्कर में होगा। इसमें करीब 50 हजार लोग हिस्सा ले सकते हैं। दूसरा रिसेप्शन 26 दिसंबर को हिसार जिले के आदमपुर स्थित घर पर होगा। यहां करीब डेढ़ लाख लोग आएंगे।IAS Marriage

तीसरा रिसेप्शन 27 दिसंबर को दिल्ली में होगा, इसमें तीन हजार वीवीआईपी शामिल होंगे। इनमें केंद्रीय मंत्री से लेकर जाने-माने अधिकारी तक शामिल होंगे।

परी बिश्नोई राजस्थान कैडर की आईएएस अधिकारी हैं, परी बिश्नोई वर्तमान में सिक्किम के गंगटोक में एसडीएम पद पर तैनात हैं। परी बिश्नोई की माता सुशीला विश्नोई अजमेर जीआरपी में तैनात है। जबकि उनके पिता चार बार सरपंच रह चुके हैं, और वकील भी हैं।IAS Marriage

परी विश्नोई का जन्म बीकानेर जिले के नोखा में हुआ था। सीनियर सेकेंडरी तक की पढ़ाई परी बिश्नोई ने अजमेर में की थी। इसके बाद दिल्ली यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन की, साथ ही यूपीएससी की तैयारी भी की। सिविल सेवा में परी बिश्नोई तीसरे प्रयास में सिलेक्ट हुई थीं। हालांकि ग्रेजुएशन के बाद उन्होंने अजमेर की एमडीएस यूनिवर्सिटी से पॉलिटिकल साइंस में पोस्ट ग्रेजुएट भी किया था।

भव्य के दादा हरियाणा के पूर्व सीएम भजनलाल थे। पूर्व सांसद कुलदीप बिश्नोई-रेणुका बिश्नोई के बेटे भव्य युवा चेहरा है। वे ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से पढ़े हैं।

गांधी परिवार से नाराजगी के चलते कुलदीप बिश्नोई-रेणुका बिश्नोई अगस्त 2022 में कांग्रेस का दामन छोड़कर भाजपा में शामिल हो गए थे। कुलदीप ने विधानसभा से इस्तीफा दे दिया था। उपचुनाव में भाजपा ने भव्य को चेहरा बनाया और वे चुनाव जीत गए। उन्हें 15,714 वोटों से जीत मिली थीIAS Marriage

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

close