छत्तीसगढ़ में IT-ED की रेड..बिलासपुर में यहां पड़ा छापा ..शराब कारोबारी,कोयला व्यापारी के ठिकाने पर दबिश

बिलासपुर–मंगलवार को अल सुबह ईडी की टीम ने प्रदेश में चार जिलों में डेढ़ दर्जन ठिकानों पर धावा बोला है। ईडी की टीम ने बिलासपुर में तीन लोगों के यहां धावा बोला। इसमें एक लिकर किंग और बाकी दो कोयला व्यापार से जुड़े हैं। देर शाम तक चली कार्रवाई में पूरे समय आईटी-ईडी की टीम ने दस्तावेज खंगाला। लेकिन इस दौरान अन्दर से बाहर तक कोई खबर नहीं पहुंची। इस दौरान सुरक्षा के हथियार बन्द जवान बाहर तैनात रहे।

                     मंगलवार को ई़़डी और आईटी की संयुक्त टीम ने एक साथ प्रदेश के चार जिलों के डेढ़ दर्जन स्थानों पर छापामार कार्रवाई को अंजाम दिया है। बिलासपुर में संयुक्त टीम ने सशस्त्र जवानों के साथ धावा बोला। दयालबन्द स्थित भाटिया ग्रुप के ठिकानों ई़़डी की टीम ने कार्रवाई को अंजाम दिया। भाटिया के कार्यालय में दिन भर कार्रवाई चलती रही।

                          इसके अलावा मंगला चौक स्थित अमलताश कालोनी में ईडी और आईटी की टीम दूसरी बार कोयला कारोबारी के ठिकाने सुबह पहुंच गयी। जानकारी देते चलें कि करीब चार महीने पहले भी अमलताश कालोनी में रहने वाले हेमन्त जायसवाल के ठिकाने पर ईडी की टीम ने धावा बोला था। एक बार फिर टीम हेमन्त जायसवाल के ठिकाने पर पहुंची। पूरे दिन छानबीन करती रही। इस दौरान हथियार के साथ जवान घर के बाहर तैनता रहे।

                                     श्रीराम वर्मा स्थित हंसाविहार कालोनी में भी टीम ने धावा बोला। रूपेश अग्रवाल के ठिकाने पर पहुंचकर बन्द कमरे मे संयुक्त टीम ने कार्रवाई को अंजाम दिया। इस पूरी कार्रवाई में क्या मिला..अधिकारियों के सामने किस प्रकार की अनियमितिताएं सामने आयी। बहरहाल जानकारी नहीं है। और ना ही आईटी और ई़डी की टीम ने कुछ बताया ही है। लेकिन कार्रवाई से पूरे प्रदेश में सनसनी जरूर फैल  गयी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *