Google से लोकेशन मिलने पर पकड़ में आए चोर…,हाईकोर्ट कालोनी में हुई चोरी का ऐसे हुआ ख़ुलासा…

बिलासपुर । करीब एक पख़वाड़ा पहले हाईकोर्ट कालोनी में हुई चोरी का ख़ुलासा हो गया है। चकरभाठा पुलिस ने इस मामले में तीन आरोपियों को गिरफ़्तार कर लिया है। खिड़की काटकर चोरी करने के बाद आरोपियों ने रकम आपस में बांट ली थी और मोबाइल बदलकर पुलिस से बचने की कोशिश कर रहे थे । गूगल से उनका लोकेशन पता कर पुलिस उन तक पहुंच पहुंच गई ।

चकरभाठा टी.आई. मनोज नायक ने बताया कि बीते 31 जुलाई की रात्रि उच्च न्यायालय स्टाफ दिनेश दास, एवं चालक विक्रम सिंह चौहान के निवास, आवासीय परिसर में अज्ञात चोर खिड़की को काटकर अंदर घुसे और नगदी रकम 17000 एवं जेवरात चोरी कर ली ।. रिपोर्ट पर थाना चकरभाटा में अपराध पंजीबद्ध किया गया।

ACCU व थाना चकरभाठा की संयुक्त टीम द्वारा चोरी की पतासाजी की जा रही थी। चोरी की पतासाजी के दौरान जानकारी मिली कि आवासीय परिसर में गार्ड का कार्य करने वाला अजय ध्रुव घटना रात्रि को ड्यूटी में उपस्थित नहीं था । उसके साथी राजेश्वर ने अजय का बचाव करते हुए बताया था कि उसकी तबीयत खराब हो गई थी।
गार्ड अजय ध्रुव से पूछताछ करने पर पहले अपने तबीयत खराब होने की बात कही ।उसके बाद अपने ससुराल ग्राम हरदी जाने तथा ससुराल से बिलासपुर जाना बताया। गार्ड अजय ध्रुव तथा गार्ड राजेश्वर पूछताछ में लगातार अपना बयान बदल रहे और गलत जानकारी दे रहे थे।
पूछताछ के दौरान अजय के भाई विजय ध्रुव के बारे में पता चला कि वह पूर्व में भी जेल जा चुका है । विजय ध्रुव को थाना बुलाकर पूछताछ कर बयान लिया गया तथा आरोपियों का गूगल लोकेशन ट्रैक निकाला गया । जिससे आरोपी विजय ध्रुव का लोकेशन घटनास्थल के आसपास तथा घटना के बाद सदर बाज़ार गोल बाजार बिलासपुर जाना मिला है।

आरोपी पकड़ में आने से बचने के लिए अपना मोबाइल बंद कर अपने पत्नी का मोबाइल नंबर उपयोग कर रहा था।आरोपी द्वारा जेवरात बेचने के लिए सोने का वर्तमान मूल्य सर्च किया गया था और पकड़े जाने से बचने के लिए सर्च को डिलीट भी कर दिया था। पूछताछ से तीनों आरोपियों ने बताया कि चोरी में प्राप्त रकम को आपस में बांट लिया है। जेवरात को अपने अन्य साथी को देने की भी बीत बताई तथा उसके द्वारा बेचने के बाद पैसा देना बताए हैं।

चकरभाठा थानेदार मनोज नायक ने बताया कि आरोपियों का अन्य साथी फरार है तथा जहां जेवरात को बेचा गया है उनकी पतासाजी की जा रही है।

उपरोक्त कार्यवाही में ACCU प्रभारी निरीक्षक हरविंदर सिंह, थाना चकरभाठा प्रभारी मनोज नायक, उपनिरीक्षक प्रसाद सिन्हा, जगदीश ठाकुर, प्रआ प्रवीण पांडे, सिद्धार्थ पांडे, नूरुल, सतीश, गौकरण, हरीश, योगेंद्र,ACCU से नवीन एक्का, निखील जाधव, गोविंद, दिपक का योगदान रहा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *