शिक्षक श्रद्धांजलि अभियान के तहत संयुक्त शिक्षक संघ दिवगंत शिक्षको को दे रहे श्रद्धांजलि,सरकार से लगा रहे है गुहार

सूरजपुर(मनीष जायसवाल)।करोना कॉल मार्च 2020 से आज तक छत्तीसगढ़ के शिक्षकों को विभिन्न कोरोना संबधी कार्य जैसे कोरोना सैंपल कलेक्शन, एक्टिव सर्विलांस, टीकाकरण अभियान, अस्पताल, रेल्वे स्टेशन, बस स्टेशन में ड्यूटी, जिला और राज्य के चेक पोस्ट में ड्यूटी, श्मशान घाट में ड्यूटी आदि कार्यो में लगातार लगाया जा रहा है। विडंबना की बात है कि शिक्षकों को कार्य के लिए अन्य कर्मचारियों की तरह कोई भी प्रशिक्षण, सुरक्षा उपकरण, जोखिम भत्ता, सुरक्षा बीमा, कोरोना वारियर्स का दर्जा आदि कुछ भी प्रदान नहीं किया जा रहा है। कुल मिलाकर शिक्षको को छोड़ दिया जा रहा है। जिससे संक्रमित होकर अभी तक करीब 500 से अधिक शिक्षक असमय ही दिवंगत हो चुके हैं।

छत्तीसगढ़ प्रदेश संयुक्त शिक्षक संघ के द्वारा प्रांताध्यक्ष केदार जैन की अगुवाई में लगातार सरकार से कोरोना संबधी ड्यूटी करने वालो शिक्षकों को कोरोनावायरस का दर्जा, जोखिम भत्ता, 50 लाख का सुरक्षा बीमा, फ्रंटलाइन कोरोना वर्कर मानकर सम्पूर्ण टीकाकरण, समान पद पर अनुकंपा नियुक्ति का मांग लगातार करते हुए ज्ञापन सौंपते आ रहा है। लेकिन सरकार के द्वारा अभी तक निर्णय नहीं लिया जाना दुखद हैं। इससे शिक्षको में आक्रोश व नाराजगी वयाप्त हैं।

संघ द्वारा गत दिवस ड्यूटीरत शिक्षकों का पोस्टर अभियान चलाकर सरकार को जगाने का कार्य किया गया जिसे आगे गति देते हुए आज 28 अप्रैल 2021 से कोरोना के कारण दिवंगत हुए शिक्षकों को श्रद्धांजलि अर्पित करने के लिए संघ द्वारा शिक्षक श्रद्धांजलि अभियान प्रारंभ किया गया है। संघ द्वारा इस अभियान से दिवंगत हुए शिक्षकों को श्रद्धा सुमन अर्पित कर, सरकार से न्याय का मांग कर रहे हैं।

संघ के प्रांताध्यक्ष केदार जैन सहित प्रांतीय पदाधिकारी ममता खालसा, ओम प्रकाश बघेल, अर्जुन रत्नाकर, गिरजा शंकर शुक्ला, सोहन यादव, नरोत्तम चौधरी, माया सिंह, रूपानंद पटेल, ताराचंद जयसवाल, जिला अध्यक्ष सचिन त्रिपाठी, संतोष पांडे, आदि ने सरकार से मांग किया है कि कोरोना संबधी कार्य करने वाले शिक्षकों को कोरोना वारियर्स का दर्जा, जोखिम भत्ता, 50 लाख का सुरक्षा बीमा, समान पद पर अनुकम्पा नियुक्त, सम्पूर्ण टीकाकरण के साथ ही कोरोना से ग्रसित होने पर अस्पताल में बेड आरक्षित किया जाए, ताकि समय पर समुचित इलाज हो सके। यह जानकारी संघ के प्रांतीय मीडिया प्रभारी मुकुंद उपाध्याय, अमित दुबे एवं कमलेश गावाड़े के द्वारा प्रदान किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *