ROHIT Archive

सांसद कमलभान ने कहा…पहले अनिश्चितकालीन हड़ताल खत्म करें…फिर मुख्यमंत्री पूरी करेंगे लिपिकों की मांग..

अम्बिकापुर–सात सितम्बर से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर गए छत्तीसगढ़ लिपिक शासकीय कर्मचारी संघ को सरगुजा सांंसद मनाने पहुंचे। सांसद कमलभान सिंह लिपिकों के धरना स्थल पहुंचकर आश्वासन दिया कि यदि हड़ताल खत्म कर दें तो मुख्यमंत्री दो सूत्रीय मांग को पूरा करने का एलान करेंगे। मांगों को पूरी करवाने की मेरी जिम्मेदारी है। जब कमलभान सिंह

सरकार हठधर्मिता छोड़े…युवा कांग्रेस नेताओं ने लिपिकों के समर्थन में कहा..हडताल से ठप हुआ सरकारी कामकाज

बिलासपुर— युवा कांग्रेस नेताओं ने भी लिपिकों की अनिश्चितकालीन हड़ताल का समर्थन किया है। युवा नेताओं ने धरना प्रदर्शन स्थल पहुंचकर मांगो को वाजिब बताया। युवा नेता जावेद मेमन और शिवा नायडू ने कहा कि प्रदेश सरकार कर्मचारी विरोधी है। लिपिकों को सोची समझी रणनीति के तहत परेशान किया जा रहा है। जबकि 2013 में

पंडाल उखाड़वाने वाले अधिकारी को देंगे गुलाब फूल..संघ नेता ने बताया..अब बिना पंडाल के करेंगे धरना प्रदर्शन

बिलासपुर—लिपिको ने अनिश्चितकालीन हड़ताल तीसरे दिन बिना पंडाल के धऱना प्रदर्शन किया। लिपिक नेता रोहित ने बताया कि शासन कुछ भी करे..हमारा हौसला बुलंद है। बिना मांग पूरी कराए प्रदेश के लिपिक हड़ताल से हटने वाले नहीं है। लिपिक संघ महामंत्री ने बताया कि एक दिन पहले एसडीएम के आदेश पर पंडाल को उखाड़ा गया।

लिपिक नेता रोहित ने कहा..डर गया जिला प्रशासन…उतारा पंडाल पर गुस्सा ..मांग पूरी होने पर ही हटेंगे पीछे

बिलासपुर– अनिश्चितकालीन हड़ताल पर गए लिपिकों के पंडाल को पुलिस प्रशासन ने उखाड़ फेंका है। रोहित तिवारी ने बताया कि शासन लिपिकों की एकता से घबरा गयी है। अब हड़ताल को खत्म करने पुलिस प्रशासन का सहारा लिया जा रहा है। जिला प्रशासन की पंडाल हटाओं कार्रवाई से लिपिक अनिश्चितकालीन हड़ताल से पीछे हटने वाले

4 स्तरीय वेतनमान घोषणा से झूमें कर्मचारी…रोहित ने कहा…सीएम को साधुवाद..आंदोलन का आया सुखद परिणाम

बिलासपुर—मुख्यमंत्री ने मोबाइल तिहार कार्यक्रम में  प्रदेश कर्मचारियों को चार स्तरीय पदोन्नति वेतनमान क़दम का स्वागत किया है। रोहित तिवारी ने बताया कि लिपिको के 26 और 27 जुलाई को दो दिवसायी हड़ताल का असर हुआ है। मुख्यमंत्री के एलान के बाद संघ की जीत हुई है।                               छत्तीसगढ कर्मचारियों को चार स्तरीय पदोन्नति वेतन

कैबिनेट की बैठक के बाद…कर्मचारियों में आक्रोश..कहा आंदोलन के लिए उकसा रही सरकार

बिलासपुर–केैबिनेट की बैठक के बाद कर्मचारी में गहरी नाराजगी है। कर्मचारियों नेताओं ने बयान दिया है कि बैठक में कर्मचारी हितों की अनदेखी हुई है। अनदेखी को बर्दास्त नहीं किया जाएगा। कर्मचारियों से जुड़े मुद्दो को बैठक से दूर रखा गया। इससे कर्मचारी वर्ग ठगा महसूस कर रहा है।                      छत्तीसगढ़ प्रदेश लिपिक वर्गीय शासकीय

लिपिक नेता ने कहा विरोधियों के गाल पर तमाचा…लिपिकों ने दिखाई ताकत..अब अनिश्चितकालीन हड़ताल की बारी

बिलासपुर— सामुहिक अवकाश के साथ हड़ताल पर गए लिपिको ने दूसरे दिन सरकार को एकता का दम दिखाया। विशाल रैली निकालकर सरकारी काम काज को पूरी तरह से ठप कर दिया। दुसरे दिन भी संभागीय कार्यालय में सरकारी काम काज नहीं हुआ। लिपिकों के हड़ताल पर जाने से अधिकारी वर्ग भी पसीना पोछला रहा या

लिपिक संघ ने भी किया आर-पार जंग का एलान…2 दिन करेंगे सामुहिक हड़ताल..फिर अनिश्चितकालीन हड़ताल की बारी

बिलासपुर–छत्तीसगढ़ प्रदेश लिपिक वर्गीय शासकीय कर्मचारी संघ 26 और 27 को दो दिवसीय सामुहिक अवकाश के साथ हड़़ताल पर रहेंगे। संघ के प्रांतीय आह्वान पर प्रदेश के सभी लिपिक चार सूत्रीय मांग को लेकर सरकार पर दबाव बनाएंगे। संघ के प्रदेश महामंत्री रोहित तिवारी ने बताया कि पिछले चरणों में आंदोलन के साथ शासन का

अधिकारी,कर्मचारी और लिपिकों का एक साथ मोर्चा..सरकार पर बनाया दबाव..कार्यालयों में पसरा रहा सन्नाटा..अनिश्चितकालीन हड़ताल की धमकी

बिलासपुर— लिपिको ने एक साथ भागदौड़ की जिन्दगी को पूरे 12 घंटे जाम कर दिया। कार्यालयों के दरवाजे कहीं खुले तो कामकाजी लोग नदारद रहे। कई जगह तो कार्यालय के दरवाजे पर ताला लटका हुआ मिला। कुछ अधिकारी इधर उधर चैन से घूमते और भटकते नजर आए। बाकी सब कोन्हेर गार्डन में हड़ताल में शामिल

कर्मचारी प्रतिनिधिमंडल ने कहा…2013 घोषणा पत्र पर नहीं हुआ अमल…मांग पत्र देकर कहा काज ठप करेंगे ठप

बिलासपुर–छत्तीसगढ़ कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन जिला शाखा के कर्मचारियों ने प्रांतीय संगठन की आवाज पर नगरीय निकाय वाणिज्यकर मंत्री अमर अग्रवाल समेत भाजपा प्रदेश अध्यक्ष धरम लाल कौशिक ,सांसद  लखन लाल साहू के निवास स्थान पहुंचकर मांग पत्र सौंपा। इस दौरान कर्मचारी अधिकारी पेडरेशन के प्रतिनिधियों ने भाजपा का साल  2013 का धोषणा पत्र देकर पुराने

..लिपिक कर्मचारी नेता ने कहा…आंदोलन को कुचलना खतरनाक…मांग पूरी नहीं होने पर दिया उग्र आंदोलन का संकेत

बिलासपुर—छत्तीसगढ़ प्रदेश लिपिक शासकीय कर्मचारी संघ के प्रांत महामंत्री रोहित तिवारी ने नर्सों के आंदोलन के साथ किए वर्ताव की निंदा की है। रोहित तिवारी ने प्रेस नोट जारी कर बताया है कि इस तरह से आंदोलन को कुचलना विस्फोटक होगा। सरकार को संवेदनशीलता का परिचय देना होगा। कर्मचारियों के साथ बैठकर सरकार को बातचीत

काली पट्टी बांधकर निपटाया कामकाज…लिपिक संघ नेताओं ने कहा..काम काज होगा बंद…अब अनिश्चितकालीन हड़ताल की बारी

बिलासपुर–छग प्रदेश लिपिक वर्गीय शासकीय कर्मचारी संघ के आह्वान पर 1 जून को प्रदेश के सभी लिपिकों काली पट्टी बांधकर सरकारी काम काज किया। इस दौरान प्रांताध्यक्ष चन्द्रिका सिंह ने लिपिकों की दो सूत्रीय मांग  को लेकर पांच चरणों में आंदोलन करने का एलान भी किया। बावजूद इसके मांग पूरी नहीं होने पर सरकार को

जब डीएफओ ने दी मां बहन की गाली…आगबबूला कर्मचारियों ने किया घेराव…अधिकारी ने हाथ जोड़कर मांगी माफी

कोरबा– लिपिक कर्मचारी से मां बहन की गाली गलौच और अश्लील कमेंट से नाराज छत्तीसगढ़ प्रदेश लिपिक शासकीय कर्मचारी संघ ने कटघोरा वन मंडल डीएफ़ओ का घेराव किया। घेराव के दौरान लिपिक संघ ने डीएफओ जगदीशन की जमकर खबर ली।  हालात इतनी नाजुक स्थिति तक पहुच गयी कि डीएफओ को हाथ जोड़कर माफी मांगनी पड़ी।

लिपिकों ने दिया सरकार को अल्टीमेटम…रोहित ने किया..बेमुद्दत आंदोलन का एलान..कहा अब दिखाएंगे ताकत

बिलासपुर–राजधानी रायपुर में लिपिको ने संगठित हो कर कलेक्टरेट के सामने हल्ला बोला। सगठन की ताकत की नुमाइश भी की। छत्तीसगढ़ प्रदेश लिपिक वर्गीय शासकीय कर्मचारी संघ के प्रांतीय आह्वान पर लिपिकों ने सैकड़ो की संख्या में लिपिको ने कलेक्टर कार्यालय के सामने जमकर प्रदर्शन किया। सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की।                      छत्तीसगढ़ लिपिक

सुलझ गयी जीपीएफ ऋणात्मक शेष की गुत्थी…रोहित ने कहा…3 दिवसीय शिविर में कर्मचारियों को मिलेगी राहत

बिलासपुर—लिपिक संघ की पहल पर शासन ने जीपीएफ़ ऋणात्मक शेष निराकरण शिविर आयोजित करेगा। बिलासपुर में शिविर का आयोजन 17, 18 और 20 नवम्बर को किया जाएगा।  मालूम हो कि महालेखाकार कार्यालय की गलती से कर्मचारियों के समान्य भविष्य निधि खाते मे ऋणात्मक शेष की समस्या को लिपिक शासकीय कर्मचारी संघ ने प्रमुखता से उठाया